JNU हमले के 36 घंटे बाद भी कोई गिरफ़्तारी नहीं, हिंदू रक्षा दल ने हमले की जिम्मेदारी ली

by Deepak Pokharia 2 years ago Views 1485

NO ARREST YET IN JNU VIOLENCE, HINDU RASTRA DAL CL
जेएनयू हमले मामले में  हमलवारों के वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बावजूद दिल्ली पुलिस किसी भी हमलवार को गिरफ्तार नहीं कर सकी है। इस बीच हिंदू रक्षा दल के अध्यक्ष पिंकी चौधरी ने जेएनयू हमले की जिम्मेदारी लेते हुए कहा कि वो आगे भी ऐसा ही करेंगे।

जेएनयू में रविवार शाम को हुए हमले के करीब 37 घंटे बाद भी अभी तक दिल्ली पुलिस किसी भी हमलवार को गिरफ़्तार कर पाने में नाक़ाम रही है। हालांकि दिल्ली पुलिस ने सोमवार को मामले में एफआईआर दर्ज कर ली थी। हमलवारों के वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है, बावजूद इसके वो अभी भी फरार चल रहे हैं। इस बीच हिंदू रक्षा दल के अध्यक्ष पिंकी चौधरी ने जेएनयू हमले की जिम्मेदारी लेते हुए कहा कि वो आगे भी ऐसा ही करेंगे।


जेएनयू में हुए हमले के खिलाफ दिल्ली के इंडिया गेट और मुंबई के गेटवे ऑफ इंडिया समेत देशभर में प्रदर्शन का दौर जारी है। उधर सोमवार को कोलकाता की जाधवपुर यूनिवर्सिटी के छात्रों के साथ जेएनयू की घटना के विरोध में प्रदर्शन कर रहे लेफ्ट पार्टियों के कार्यकर्ताओं और बीजेपी समर्थकों में भिड़ंत हो गई। पुलिस ने हालात को संभालने के लिए लाठीचार्ज कर प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर किया।

मंगलवार सुबह मुंबई पुलिस ने JNU हमले के खिलाफ गेटवे ऑफ इंडिया में दो दिन से प्रदर्शन कर रहे प्रदर्शनकारियों को वहां से हटाते हुए आजाद मैदान में शिफ्ट कर दिया है।

उधर जेएनयू में जारी तनाव के बीच सेमेस्टर रजिस्ट्रेशन की तारीख आगे बढ़ा दी गई है। वहीं सुरक्षा के डर से कई छात्रों ने कैंपस छोड़ अपने घर जाने लगे हैं। हमले के बाद जेएनयू के वीसी एम जगदीश कुमार के इस्तीफे की मांग तेज हो गई है। जेएनयू छात्र संघ अध्यक्ष आयशी घोष ने कहा हमला सुनियोजित था। साथ ही कहा कि वीसी जगदीश कुमार को इस्तीफा देना चाहिए।

इस बीच जेएनयू में हुए हमले का मामला अब सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है। सुप्रीम कोर्ट में केंद्र सरकार और दिल्ली पुलिस के खिलाफ अवमानना याचिका दायर की गई है।

ताज़ा वीडियो