चुनाव हार चुके हैं नीतीश कुमार: तेजस्वी यादव

by M. Nuruddin 1 year ago Views 1825

Nitish Kumar has lost the election: Tejashwi Yadav
बिहार विधासभा चुनाव के पहले चरण के मतदान में अब महज़ एक हफ्ता रह गया है। चुनाव में महागठबंधन के नेता तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार पर हमला बोला है। तेजस्वी ने अपनी एक रैली में कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पहले ही चुनाव हार चुके हैं। उन्होंने यह भी कहा कि मुख्यमंत्री के पास रोजगार देने की इच्छाशक्ती नहीं है।

राजद नेता सीएम नीतीश के 15 साल के कार्यकाल को लेकर घेराबंदी कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि साढ़े चार लाख नौकरियों के पद रिक्त हैं और साढ़े पांच लाख नौकरियां वो हैं जो राष्ट्रीय औसत में हैं। हम ठेठ बिहारी हैं जो कहते हैं वो करते हैं। गया में एक रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, ‘बिहार बेरोजगारी का केन्द्र है। हम एक मौका चाहते हैं। अगर हमारी सरकार बनी और मुख्यमंत्री बनें तो एक साथ दस लाख नौजवानों को सरकारी नौकरी देंगे।’


तेजस्वी यादव अपनी सभाओं में लगातार कोरोना, रोजगार, विकास, शिक्षा और स्वास्थ्य के मुद्दे को लेकर मुख्यमंत्री पर हमले कर रहे हैं। राजद नेता का आरोप है कि अपने लंबे कार्यकाल में नीतीश कुमार ने ऐसा कुछ नहीं किया जिससे बिहार की जनता को फायदा हो। सोमवार को तेजस्वी ने अपने एक ट्वीट में कहा कि बिहार इस बार अच्छी शिक्षा, उत्कृष्ट स्वास्थ्य, प्रभावशाली विधि व्यवस्था, चहुँमुखी विकास, महिला सशक्तिकरण, नौकरी और रोजगार के लिए मतदान करेगा।’

इनके अलावा राजद नेता तेजस्वी यादव लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान को भी रिझाने की पुरज़ोर कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने चिराग पासवान का समर्थन करते हुए कहा कि नीतीश कुमार ने लोजपा प्रमुख के साथ अन्याय किया। उन्होंने कहा, ‘नीतीश कुमार ने चिराग पासवान के साथ जो किया वो गलत है। चिराग को अपने पिता की पहले से कहीं अधिक ज़रूरत है। रामविलास पासवान जी हमारे साथ नहीं हैं और हमें इस बात का दुख है। नीतीश कुमार ने चिराग पासवान के साथ अन्याय किया है।’

राजद नेता ने सीएम नीतीश को पलटूराम बताया और उन्हें उनके 15 साल के कार्यकाल पर बहस की चुनौती दी। उन्होंने कहा, ‘मैं नीतीश कुमार से अनुरोध करूंगा कि पिछले 15 वर्षों में उनकी किसी भी उपलब्धि पर बहस करें। हमें एक नई बहस शुरू करनी चाहिए। एक मुख्यमंत्री उम्मीदवारों की बहस होनी चाहिए। नीतीश जी को मेरी चुनौती स्वीकार करनी चाहिए।’

हालांकि नीतीश कुमार का कहना है कि जिन लोगों को उन्होंने बोलना सिखाया है उनको बहुत फायदा हुआ है। उन्होंने अपने एक संबोधन में कहा, ‘किस तरह से बातचीत की जाती है, कैसा व्यवहार करना चाहिए, ये सब हमलोगों ने सिखाया।’

बिहार में 28 अक्टूबर को पहले चरण का मतदान है और दूसरे और तीसरे चरण का मतदान 3 नवंबर और 7 नवंबर को होगा। नतीजे 10 नवंबर को घोषित किए जाएंगे।

ताज़ा वीडियो