पंजाब कैबिनेट के नए मंत्रियों के नाम, सात पुराने, आठ नए, कैबिनेट में कुल 15 मंत्री

by M. Nuruddin 9 months ago Views 1653

Names of new ministers of Punjab cabinet, eight ne
पंजाब के नए मंत्रिमंडल के लिए विधायकों की लिस्ट तैयार कर ली गई है। माना जा रहा है कि रविवार को यह सभी विधायक अपने मंत्री पद की शपथ ले सकते हैं। मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के दिल्ली में हाई कमान से मीटिंग करने के बाद यह फाइनल लिस्ट सामने आई है। मंत्रिमंडल में आठ नए चेहरे को जगह दी गई है और अमरिंदर कैबिनेट के पांच मंत्रियों को मंत्रिमंडल से बाहर कर दिया गया है।

कैप्टन कैबिनेट के मंत्रियों को नए मंत्रिमंडल में जगह


अमरिंदर कैबिनेट के सात मंत्रियों को फिर से मंत्री बनाया गया है। इनमें ब्रह्म मोहिंद्रा, भारत भूषण, मनप्रीत बादल, तृप्त राजिंदर बाजवा, सुखबिंदर सरकारिया, विजय इंदर सिंघला और रजिया सुल्ताना शामिल हैं। हालांकि ख़बर यह भी आई कि पंजाब कैबिनेट के नए मंत्रियों की लिस्ट फाइनल हो गई थी लेकिन देर रात मुख्यमंत्री की हाई कमान से मुलाकात के बाद लिस्ट में बदलवा किया गया है।

ग़ौरतलब है कि मंत्रिमंडल में शामिल किए गए मनप्रीत बादल अमरिंदर कैबिनेट में वित्त मंत्री थे। विजय इंदर सिंघला अमरिंदर कैबिनेट में शिक्षा और पीडब्ल्यूडी मंत्री रहे हैं। वॉटर, सप्लाई एंड सैनिटेशन मंत्री रहीं रजिया सुल्ताना भी मंत्रिमंडल में शामिल की गई हैं। जबकि अभी यह साफ नहीं है कि कैप्टन कैबिनेट से शामिल किए गए मंत्रियों को अब कौन सा विभाग दिया जाएगा।

रविवार को शपथ ग्रहण !

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक़ लिस्ट को अंतिम रूप देने के बाद, सीएम चन्नी ने राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित से मुलाकात की, जिसके बाद उन्होंने कहा कि उनके मंत्रिमंडल में 15 मंत्रियों को रविवार शाम 4:30 बजे शपथ दिलाई जाएगी। कहा जा रहा है कि कांग्रेस हाई कमान की बैठक में केसी वेणुगोपाल, हरीश रावत, हरीश चौधरी और अजय माकन शामिल थे।

पंजाब मंत्रिमंडल से निकाले गए मंत्री

अमरिंदर कैबिनेट में स्वास्थ्य मंत्री रहे बलबीर सिद्धू, राजस्व मंत्री रहे गुरप्रीत सिंह कांगड़, उद्योग मंत्री रहे सुंदर शाम अरोड़ा, समाज कल्याण मंत्री रहे साधु सिंह धर्मसोत और खेल मंत्री रहे राणा गुरमीत सिंह सोढ़ी को मंत्रिमंडल से बाहर कर दिया है।

हालांकि कुछ ऐसे चेहरे भी हैं जो कैप्टन अमरिंदर सिंह के कार्यकाल में मंत्री रहे थे। कांग्रेस की बैठक में पूर्व सिंचाई मंत्री राणा गुरजीत सिंह को फिर से शामिल करने पर भी सहमति बनी है, जिनपर घोटाले का आरोप है।

वो पहले अमरिंदर सिंह के मंत्रिमंडल में मंत्री थे, लेकिन अपने पूर्व कर्मचारियों को रेत खदानों के आवंटन में कथित घोटाले के बाद उन्हें अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा था।

मंत्रिमंडल में सिद्धू का दबदबा !

हाई कमान की मीटिंग में जिन विधायकों को मंत्री बनाने पर सहमित बनी है उनमें हॉकी ओलंपियन परगट सिंह भी शामिल हैं जो राज्य में कांग्रेस के सचिव भी हैं। हालांकि अभी यह साफ नहीं है कि उन्हें कौन सा विभाग दिया गया है लेकिन एक अमेरिका स्थित एनआरआई निकाय उत्तर अमेरिकी पंजाबी एसोसिएशन ने परगट सिंह को एनआरआई अफेयर्स विभाग देने की मांग की है।

इनके अलावा पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष कुलजीत नागरा और गिद्दड़बाहा विधायक अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग शामिल हैं। माना जा रहा है कि यह वो नाम हैं जो पंजाब प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिद्धू की पसंद हैं।

कहा यह भी जा रहा है कि हालांकि मुख्यमंत्री चरणजीत चन्नी इन्हें मंत्रिमंडल में शामिल किए जाने का विरोध कर रहे थे। मुख्यमंत्री की दलील थी कि वे लोग पार्टी में महत्वपूर्ण पदों पर हैं और ऐसे में उन्हें मंत्रिमंडल में शामिल करना ठीक नहीं होगा।

होल्ड पर महत्वपूर्ण नियुक्तियां

दूसरी तरफ राज्य में महत्वपूर्ण पदों पर नियुक्तियों को लेकर भी हाई कमान अंतिम फैसले पर नहीं पहुंच सका है। राज्य में एडवोकेट जनरल के पद पर नियुक्ति होनी थी लेकिन पंजाब में पार्टी नेताओं के बीच रस्साकशी की वजह से दीपिंदर सिंह पटवालिया को एडवोकेट जनरल बनाने के फैसले पर रोक लगा दी।

हालांकि सिद्धू पटवालिया का पुरजोर समर्थन कर रहे थे लेकिन कहा जा रहा है कि राहुल गांधी ने मुख्यमंत्री को अनमोल रतन सिंह सिद्धू को अगला एडवोकेट जनरल नियुक्त करने को कहा है। इस मामले में फिलहाल अंतिम फैसला आना बाकी है।

अगले डीजीपी के मुद्दे पर भी आम सहमति नहीं बनी है। जबकि सिद्धार्थ चट्टोपाध्याय को गुरुवार को अगले डीजीपी के लिए तैयार किया गया था, अभी तक कोई औपचारिक आदेश नहीं आया है। जबकि पार्टी के भीतर उनकी नियुक्ती का विरोध हो रहा है।

मुख्यमंत्री के मीडिया एडवाइज़र की नियुक्ति भी होल्ड पर है। इस बीच सिद्धू के सहयोगी स्मित सिंह को मुख्यमंत्री के मीडिया एडवाइज़र के पद पर नियुक्त की बात सामने आई थी लेकिन उन्होंने ऐसे किसी भी पेशकश से इनकार किया है।

पंजाब कैबिनेट के सभी 15 मंत्रियों के नाम :

1. ब्रह्म मोहिंद्रा
2. भारत भूषण
3.मनप्रीत बादल
4.तृप्त राजिंदर बाजवा
5.कुलजीत नागरा
6.परगट सिंह
7.सुखबिंदर सरकारिया
8. विजय इंदर सिंघला
9.राजकुमार वेरका
10. राणा गुरजीत सिंह
11.संगत गिलजियांन
12.राकेश पांडेय
13.राजा वड़िंग
14.रजिया सुल्ताना
15.गुरकीरत कोटली

ताज़ा वीडियो