गंभीर बीमारियों से जूझ रहे 1 अरब 70 करोड़ लोगों पर कोरोना का ख़तरा ज़्यादा: रिपोर्ट

by M. Nuruddin 2 years ago Views 1116

More than 1 billion 700 million people suffering f
एक नए अनुमान के मुताबिक दुनिया की 20 फ़ीसदी आबादी यानी 1 अरब 70 करोड़ लोगों पर गंभीर रूप से कोरोना की चपेट में आने का ख़तरा मंडरा रहा है. यह दावा लंदन स्कूल ऑफ हाइजीन एंड ट्रॉपिकल मेडिसन ने अपने एक अध्ययन में किया है. इसके मुताबिक विशेषज्ञों की एक टीम में डायबिटीज़, फेफड़े की बीमारी और एचआईवी से जूझ रहे लोगों के वैश्विक आंकड़े जुटाए. मकसद था यह पता लगाना कि कोरोनावायरस का संक्रमण कितने लोगों पर गंभीर असर कर सकता है.

अध्ययन के मुताबिक दुनिया का हर पांच में एक शख़्स किसी ना किसी गंभीर बीमारी से जूझ रहा है और अब कोरोना संक्रमण के चलते ऐसे लोगों की जान ख़तरे में है. हालांकि अध्ययन में यह भी कहा गया है कि इन बीमारियों से जूझ रहे सभी लोगों में कोरोना के गंभीर लक्षण नहीं दिखेंगे लेकिन वैश्विक आबादी का चार फ़ीसदी हिस्सा यानि 3.5 करोड़ लोगों को अस्पताल और अच्छे इलाज की ज़रूरत होगी।


इस अध्ययन से जुड़े एंड्र्यू क्लार्क ने कहा कि जब दुनिया के तमाम देश लॉकडाउन हटा रहे हैं, तब सरकारें उन लोगों को बचाने के उपाय ढूंढ रही हैं जो गंभीर बीमारियों के शिकार हैं क्योंकि संक्रमण अभी भी फैल रहा है. विशेषज्ञों का भी मानना है कि इस बीमारी से बचने का सबसे कारगर उपाय फिज़िकल डिस्टेंसिंग ही है.

एंड्रयू क्लार्क ने यह भी कहा कि कोरोना वैक्सीन बनने पर यह अध्ययन सरकारों के काम आ सकता है कि सबसे पहले वैक्सीन किन लोगों को दी जाए. जॉन्स हॉपकिंस यूनिवर्सिटी के मुताबिक दुनियाभर में अब तक 81 लाख से ज़्यादा लोग कोरोना संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं जबकि चार लाख 39 हज़ार से ज़्यादा लोगों की मौत हो चुकी है.

ताज़ा वीडियो