ads

2021 में मीडिया की बल्ले-बल्ले, 80,123 करोड़ रुपये विज्ञापन से कमाई का अनुमान

by Rahul Gautam 2 months ago Views 3851

इस रिपोर्ट के मुताबिक 2021 में 23% की अनुमानित वृद्धि के साथ विज्ञापन खर्च 12,731 करोड़ रु पहुंचने की उम्मीद है...

Media's excellent condition in 2021, advertising r
कोरोना काल में सबसे ज्यादा मार झेलने वाली मीडिया इंडस्ट्री के लिए साल 2021 एक बेहतर साल साबित हो सकता है। ऐसा कहना है विज्ञापन पर होने वाले खर्च पर नज़र रखने वाली एजेंसी ग्रुप एम फ्यूचर्स का। इसकी ताज़ा रिपोर्ट बताती है की जहा 2020 में विज्ञापन में 21.5% की गिरावट दर्ज़ हुई थी, वही 2021 में  23.2% की बढ़ोतरी और विज्ञापन पर होने वाला खर्च 80,123 करोड़ रुपये तक पहुंचने की उम्मीद है।

इस रिपोर्ट के मुताबिक टेलीविजन विज्ञापन पर खर्च 2021 में 18% बढ़कर 35,914 करोड़ रुपये तक होने का अनुमान है। ध्यान रहे, 2020 में यह 14% घटकर 30,436 करोड़ रुपये रह गया था । इसी तरह 2021 में डिजिटल मीडिया भी 28% की बढ़ोतरी के साथ बड़ी छलांग लगाने को तैयार है। इसी वर्ष डिजिटल विज्ञापन खर्च 27,700 करोड़ रुपये तक पहुंचने की उम्मीद है।


दरअसल, 2020 प्रिंट, रेडियो, आउटडोर विज्ञापन, ऑडियो और सिनेमा के लिए कमाई के नज़रिए से एक बुरे सपने जैसा था। मसलन प्रिंट यानी अख़बार-मैगज़ीन माध्यम, जो तीसरा सबसे बड़ा विज्ञापन का माध्यम था, वह 43% सिकुड़कर 10,350 करोड़ रु तक आ गया था।

यह कोरोना काल का वो समय था जब पहली बार विज्ञापन दिखाने के मामले में डिजिटल मीडिया ने प्रिंट मीडिया को पछाड़ दिया था। लगभग 3 महीने पहले जारी हुई एडवर्टाइसिंग स्टैंडर्ड काउंसिल ऑफ़ इंडिया (ASCI) की ओर से हुई स्टडी के मुताबिक विज्ञापन की खपत के लिहाज़ से टीवी (94%) सबसे अगुवा माध्यम बना था । इसके बाद डिजिटल (82%), प्रिंट (77%) और रेडियो (29%) का नंबर था। लेकिन 2021 प्रिंट मीडिया के लिए अच्छा साबित होने की उम्मीद है।

इस रिपोर्ट के मुताबिक 2021 में 23% की अनुमानित वृद्धि के साथ विज्ञापन खर्च 12,731 करोड़ रु पहुंचने की उम्मीद है।

2020 में पूरी दुनिया में 27 बिलियन डॉलर का मुनाफा कमाने वाला एकमात्र माध्यम डिजिटल था। इस रिपोर्ट में दावा किया गया है की बढ़ती डिजिटल निर्भरता और बदलते उपभोक्ता पैटर्न के चलते डिजिटल में वृद्धि आसमान छूती रहेगी। रिपोर्ट में उम्मीद जताई गई है की एफएमसीजी, ई-कॉमर्स, ऑटो, टेलीकॉम और रिटेल इस वर्ष सबसे ज्यादा विज्ञापनों पर पैसा खर्च करेंगे।

ताज़ा वीडियो