2018 में चोरों ने उड़ाया 5,227 करोड़ का माल, दिल्ली पुलिस सबसे फिसड्डी साबित

by Rahul Gautam 4 months ago Views 900
Largest base of Delhi thons, police lapse in seizu
नेशनल क्राइम रिकॉर्ड्स के नए आंकड़े बताते हैं कि देश में चोरी के मामले साल दर साल बढ़ रहे हैं. राजधानी दिल्ली चोरों का सबसे बड़ा अड्डा है जहां 2018 में तक़रीबन दो लाख चोरियां हुईं. दिल्ली पुलिस चोरियां रोकने, चोरों को पकड़ने और चोरी का माल बरामद करने के मामले में देश की सबसे फिसड्डी पुलिस है. 

नेशनल क्राइम रिकॉर्ड्स ब्यूरो के नए आंकड़े बताते हैं कि देश में चोरी के मामले साल दर साल बढ़ रहे हैं. नए आंकड़ों के मुताबिक साल 2018 में देशभर में 6 लाख 25 हज़ार 441 चोरियां हुईं जबकि 2017 में 5 लाख 89 हज़ार 058 चोरियां हुईं. 

Also Read: ऑस्ट्रेलियाई आग का वायुमंडल पर बुरा असर, NASA ने वीडियो किया शेयर

आसान शब्दों में कहें तो 2018 में चोरों ने देश में हर दिन 1713, हर घंटे 71 और हर मिनट एक से ज़्यादा चोरियां अंजाम दीं. इस दौरान चोरों ने 5227 करोड़ के माल पर हाथ साफ़ कर दिया. आंकड़े यह भी बताते हैं कि राजधानी दिल्ली चोरों का सबसे बड़ा अड्डा है और इन्हें पकड़ने में दिल्ली पुलिस देश की सबसे फिसड्डी पुलिस है. 

2018 में राजधानी दिल्ली में चोरी के 1 लाख 95 हज़ार 688 मामले दर्ज हुए. इनमें चोर 1017 करोड़ का माल लेकर रफूचक्कर हो गए और दिल्ली पुलिस महज़ 61.8 करोड़ रुपए का ही माल बरामद कर सकी. 

  • महाराष्ट्र में एक लाख चार हज़ार 855 चोरियां हुईं. यहां चोरों ने 1403 करोड़ का माल उड़ाया और बरामदगी हुई 754.2 करोड़ की. 
  • उत्तर प्रदेश में 55 हज़ार 614 मामले चोरी के आए. यहां चोरों ने 324 करोड़ के माल पर हाथ साफ किया और रिकवरी हुई 94  करोड़ रुपए की. 
  • बिहार में 30916 चोरियां हुईं. यहां चोरों ने 119 करोड़ के माल उड़ाए जबकि बरामदगी हुई 22.2 करोड़ रुपए की. 
  • मध्य प्रदेश में चोरी के 30 हज़ार 96 मामले आए. यहां चोरों ने 247 करोड़ का माल उड़ाया और रिकवरी हुई 119.5 करोड़ की. 
  • असम में 15800 चोरियां हुईं. यहां चोरों ने 110.2 करोड़ के माल उड़ाए और बरामदगी हुई 24 करोड़ की. 
  • गुजरात में 14 हज़ार 213 मामले चोरी के दर्ज हुए. यहां चोरों ने 311 करोड़ की संपत्ति चुरा ली लेकिन बरामदगी 80 करोड़ की हो पाई. 
  • पंजाब में 7065 चोरियां हुईं. यहां चोरों ने 102.5 करोड़ की संपत्ति उड़ाई और रिकवरी हुई 31.1 करोड़ की. 
  • पश्चिम बंगाल में चोरी के 13665 मामले सामने आए. यहां चोरों ने 97 करोड़ का माल उड़ा लिया लेकिन पुलिस लगभग आधा यानी 47 करोड़ के माल को बरामद करने में कामयाब हो गई.
देश में चोरों से संपत्ति बरामद करने का सबसे अच्छा रिकवरी रेट तेलंगाना पुलिस का है. यहां चोरी के 11 हज़ार 929 मामले सामने आए. इस दौरान चोरों ने 160.6 करोड़ की संपत्ति उड़ाई लेकिन तेलंगाना पुलिस 113.4 करोड़ यानि 70.6 की संपत्ति रिकवर करने में कामयाब रही.

वीडियो देखिये