हरियाणा विधानसभा में किंगमेकर बनी जेजेपी, किसके साथ बनाएगी सरकार?

by M. Nuruddin 2 years ago Views 2216

JJP became kingmaker in Haryana assembly, with who
हरियाणा विधानसभा के हार-जीत की बात करें तो फिलहाल ये साफ नहीं हो पाया है कि सरकार किसकी बनेगी। यदि मौजूदा रूझानों पर ग़ौर करें तो हरियाणा में बीजेपी 39 सीटों से आगे है और कांग्रेस 30 सीटों के साथ बीजेपी को कड़ी टक्कर दे रही है, वहीं जेजेपी फिलहाल 10 सीटों के साथ किंगमेकर की भूमिका निभाने के लिये तैयार है। माना जा रहा है कि जेजेपी के खाते में 8-10 सीट जा सकती है।

इसी बीच हरियाणा के पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने सभी दलों जेजेपी, आईएनएलडी और निर्दलीय को साथ आकर हरियाणा में एक मजबूत सरकार बनाने की अपील की है। हुड्डा रोहतक में मीडिया से बात कर रहे थे। उन्होंने कहा सभी दलों को साथ आना चाहिये और राज्य में एक मजबूत सरकार बनाना चाहिये।


दूसरी ओर जेजेपी की ओर से खबर आ रही है कि जेजेपी के मुखिया दुष्यंत चौटाला ने कांग्रेस के साथ मिलकर सरकार बनाने की पेशकश की है लेकिन बात सीएम पद को लेकर अटक गई है। दरअसल, दुष्यंत चौटाला ने सीएम पद की मांग की है लेकिन कांग्रेस ने इससे साफ इंकार कर दिया है। कांग्रेस ने उप मुख्यमंत्री का पद देने के लिये राज़ी है।

हालांकि पार्टी ने इस विधानसभा चुनान में अभी तक अच्छा प्रदर्शन कर रही है। ऐसे में कयास लगाया जा रहा है कि जेजेपी के पाले में 8-10 सीटें जा सकती है। इससे साफ है कि हरियाणा में किसी भी पार्टी को पूर्ण बहुमल मिलने नहीं जा रहा है। जानकारी के मुताबिक, बीजेपी और कांग्रेस दोनों ही पार्टियां जेजेपी के मुखिया दुष्यंत चौटाला के संपर्क में है। फिलहाल जेजेपी की ओर से कोई औपचारिक बयान नहीं दिया गया है। चुंकि मामला साफ है कि जेजेपी के पास विधानसभा की चाबी है। पार्टी मुखिया दुष्यंत चौटाला ने कहा कि बैठक करने के बाद साफ किया जाएगा।

ये भी पढ़ें- हरियाणा में बीजेपी का खराब प्रदर्शन, सुभाष बराला ने दिया प्रदेश अध्यक्ष पद से इस्तीफा

अब बात यदि भूपेंद्र सिंह हुड्डा के बयान की करें तो, हुड्डा ने सभी पार्टियों को साथ आ कर सरकार बनाने की अपील की है। जिसमें आईएनएलडी भी शामिल है। बता दें कि आआएनएलडी हरियाणा विधानसभा में मुख्य विपक्षी पार्टी की भूमिका निभा रही है और इस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं ओमप्रकाश चौटाला। लेकिन इस विधानसभा चुनाव में ओमप्रकाश चौटाला की पार्टी आइएनएलडी पूरी तरह से साफ हो चुकी है। किंगमेकर बन गई है अजय चौटाला के बेटे दुष्यंत चौटाला की पार्टी जेजेपी।

दरअसल, चार बार हरियाणा के सीएम रहे ओमप्रकाश चौटाला के दोनों बेटे अजय चौटाला और अभय चौटाला के बीच झगड़े के बाद ओमप्रकाश ने अजय को पार्टी से बाहर निकाल दिया था। उसके दुष्यंत चौटाला की अगुवाई में जननायक जनता पार्टी का गठन हुआ। दुष्यंत चौटाला और दिग्विजय चौटाला, अजय चौटाला के बेटे हैं। दुष्यंत चौटाला जननायक जनता पार्टी की अगुवाई कर रहे हैं।

अधिक जानकारी के लिये देखिये:- GoNewsIndia Live

ताज़ा वीडियो