ads

J&K: पूर्व सीएम महबूबा मुफ़्ती ने पुलिस पर लगाया जबरन नज़रबंद करने का आरोप

by Ankush Choubey 5 months ago Views 963

Jammu and Kashmir: Former CM Mehbooba Mufti accuse
जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने कश्मीर पुलिस पर उन्हें ग़ैर-क़ानूनी तौर पर हिरासत में लेने का आरोप लगया है। उनकी बेटी  इल्तिजा मुफ़्ती ने मीडिया को फोन कर इस बात की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि उन्हें और उनकी मां को घर में जबरन नजरबंद कर दिया गया है। उन्होंने आरोप लगाया कि उन्हें और उनकी माँ को घर से बाहर निकलने और घर पर किसी से भी अनुमति नहीं है। दरअसल, महबूबा मुफ्ती पुलवामा दौरे पर जाने वाली थीं, लेकिन अब नज़रबंद होने के बाद वो नहीं जा पाएंगी।

पूर्व सीएम महबूबा मुफ़्ती ने भी ट्वीट किया- मुझे फिर से अवैध रूप से हिरासत में लिया गया है। दो दिनों से जम्मू और कश्मीर प्रशासन मुझे पुलवामा के पीड़ित परिजनों से मिलने के लिए यात्रा करने की अनुमति नहीं दे रहा है। भाजपा के मंत्रियों और उनके कठपुतलियों को कश्मीर के हर कोने में घूमने की अनुमति है लेकिन सुरक्षा की समस्या सिर्फ मेरे मामले में है।


महबूबा मुफ़्ती ने आगे लिखा कि केंद्र सरकार की क्रूरता की कोई सीमा नहीं है। वाहिद को आधारहीन आरोपों में गिरफ्तार किया गया था और मुझे उसके परिवार को सांत्वना देने की भी अनुमति नहीं है। यहां तक कि मेरी बेटी इल्तिजा को भी घर में नज़रबंद रखा गया है क्योंकि वह भी वाहिद के परिवार से मिलना चाहती थी। 

ट्विटर पर ही महबूबा मुफ़्ती ने पुलिस प्रमुख और अफसरों को वाहिद पारा के परिजनों से मिलने जाने संबंधी लिखी गई चिट्ठियां भी साझा की हैं। दरअसल, शुक्रवार को जब महबूबा मुफ्ती पुलवामा में वाहिद पारा के परिजनों से मिलने जा रही थीं, उसी दौरान उनकी सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मियों ने उन्हें घर से बाहर जाने से रोक दिया। वाहिद पारा को पीडीपी चीफ का करीबी समझा जाता है, जिन्हें एनआईए ने दिल्ली में गिरफ्तार किया है। पारा पर आंतकी संगठन हिज्बुल मुजाहिद्दीन की आर्थिक मदद करने के का आरोप हैं।

ताज़ा वीडियो