जामिया-जेएनयू के स्टूडेंट्स यूपी भवन के सामने प्रदर्शन करने से पहले हिरासत में लिए गए

by Rahul Gautam 5 months ago Views 2226
Jamia-JNU students detained before demonstrating i
नागरिकता क़ानून के ख़िलाफ़ जारी आंदोलनों को यूपी से दिल्ली तक कुचलने की कोशिश की जा रही है. अब दिल्ली में यूपी भवन घेरने की कोशिश कर रहे कई  दर्जन लोगों को दिल्ली पुलिस ने हिरासत में लिया है. यूपी भवन के घेराव की अपील जामिया कोऑर्डिनेशन कमिटी ने उस वक्त दी थी जब फैक्ट फाइंडिंग रिपोर्ट में यूपी पुलिस की बर्बरता उजागर हुई.

कई रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि यूपी पुलिस ने आंदोलनकारियों पर ग़लत धाराओं में गंभीर मुक़दमे दर्ज करके मनमाने तरीक़े से गिरफ़्तारी की, घरों में घुसकर औरतों से मारपीट की और घरों में रखा कैश और जूलरी लूटकर ले गए. वायरल वीडियो में यूपी पुलिस के जवान हिंसा से पहले सीसीटीवी तोड़ते हुए भी दिख रहे हैं.

Also Read: मेलबर्न टेस्ट (दूसरा दिन) - ऑस्ट्रेलिया मज़बूत स्थिति में

यूपी पुलिस के बारे में ऐसे सनसनीखेज़ तथ्य उजागर होने के बाद दिल्ली में कई संगठन यूपी भवन के बाहर प्रदर्शन करने वाले थे लेकिन दिल्ली पुलिस ने ऐसा नहीं करने दिया. दिल्ली पुलिस ने बीच रास्ते से लोगों को हिरासत में लेना शुरू कर दिया. यहां कई पुलिसवालों के नेम बैच भी ग़ायब थे.

वीडियो देखिये

किसी इलाक़े में अगर धारा 144 लगती है तो वहां चार या चार से ज़्यादा लोग जमा नहीं हो सकते। लेकिन दिल्ली पुलिस ने दो-दो तीन-तीन की टोली में जा रहे लोगों को भी हिरासत में ले लिया. मकसद यही था कि किसी को भी यूपी भवन नहीं पहुंचने देना है.

इन प्रदर्शनों पर लगाम कसने के लिए ड्यूटी कर रहे तमाम पुलिसवाले बार-बार बिना बैच के दिखाई दे रहे हैं. अभी तक कम से कम जामिया और जेएनयू के तीन दर्जन स्टूडेंट्स को दिल्ली पुलिस ने हिरासत में लिया है.