नागरिकता क़ानून के ख़िलाफ़ हिंसक विरोध के बाद जामिया बंद, एग्ज़ाम रद्द

by Rahul Gautam 5 months ago Views 1773
Jamia closed after violent protest against citizen
नागरिकता क़ानून के ख़िलाफ़ जामिया मिल्लिया इस्लामिया में हिंसक प्रदर्शन के बाद हालात बेक़ाबू हो गए हैं. यूनिवर्सिटी प्रशासन ने 5 जनवरी तक जामिया मिल्लिया को बंद करने का आदेश दिया है. इसके अलावा शनिवार से शुरू होने वाले सेमेस्टर एग्जाम को रद्द कर दिया गया है.

इससे पहले शुक्रवार को जामिया मिल्लिया इस्लामिया में हज़ारों स्टूडेंट्स ने कैब के ख़िलाफ़ मार्च निकाला. प्रदर्शनकारी संसद की ओर मार्च करना चाहते थे लेकिन दिल्ली पुलिस के जवानों ने बैरिकेड लगाकार सभी छात्रों को जामिया में ही रोक दिया. इसके बाद दिल्ली पुलिस के जवानों ने छात्रों पर आंसू गैस के गोले दागे और बुरी तरह लाठीचार्ज किया.

Also Read: वेस्ट इंडीज वनडे सीरीज़ के लिए चोटिल भुवनेश्वर कुमार की जगह शार्दुल ठाकुर टीम में

सोशल मीडिया पर तमाम वीडियो भी वायरल हुए हैं जिनमें दिल्ली पुलिस के जवान आंसू गैस के गोले दागते और पत्थर फेंकते हुए देखे जा सकते हैं. जवानों ने कैंपस में घुसकर प्रदर्शनकारी छात्रों को बुरी तरह मारा है. इस कार्रवाई में कम से कम 30 छात्र ज़ख़्मी हुए हैं जबकि एक दर्जन पुलिसवालों को भी चोटें आई हैं.

हालांकि इसके बावजूद छात्रों ने अपना आंदोलन ख़त्म नहीं किया और शनिवार को भी बड़ी तादाद में कैंपस में जमा हो गए. ऐसे में प्रशासन ने  यूनिवर्सिटी को बंद करने और एग्‍ज़ाम को टालने का ऐलान कर दिया है.