रद्द होने के मुहाने पर पहुंचा टोक्यो ओलंपिक, आईओसी ने कहा- 2021 आख़िरी विकल्प

by M. Nuruddin 2 years ago Views 4802

IOC: Tokyo Olympics to be scrapped if not held in
कोरोना महामारी की मार झेल रहे टोक्यो ओलंपिक रद्द किया जा सकता है। अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक कमेटी के प्रमुख थॉमस बाक ने कहा कि अगर ओलंपिक का आयोजन 2021 में मुमकिन नहीं हुआ तो इसे रद्द कर दिया जाएगा। इससे पहले मार्च में कोरोना की वजह से ओलंपिक को एक साल के लिए टाल दिया गया था। इसकी तारीखों में बदलाव करते हुए आईओसी ने 23 जुलाई 2021 की तारीख तय की थी। हालांकि पहले खेलों का यह महाकुंभ 24 जुलाई 2020 से आयोजित होना था।

जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे का कहना है कि जबतक कोरोना वायरस का प्रकोप ख़त्म नहीं होता तबतक कोई भी मल्टी स्पोर्ट्स इवेंट आयोजित नहीं किए जाएंगे।


आईओसी प्रमुख थॉमस बाक ने कहा कि जापान की स्थिति को समझा जा सकता है क्योंकि आयोजन समिति में तीन से पांच हज़ार लोगों को लगातार काम पर रखना मुश्किल है। उन्होंने आगे कहा कि हर साल पूरी दुनिया के खेल कैलेंडर को नहीं बदला जा सकता और खिलाड़ियों को भी अनिश्चितता की स्थिति में नहीं रखा जा सकता है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक़ ओलंपिक में हो रही देरी के कारण जापान को छ: अरब डॉलर का नुकसान हो सकता है। इसी तरह कई अन्य अंतरराष्ट्रीय खेलों के निलंबन से खेल जगत को भारी नुकसान होने की आशंका है। इनमें यूएस मेजर लीग (US Major League) के निलंबन से 5.5 अरब डॉलर का नुकसान हो सकता है। इसके अलावा यूके स्पोर्ट्स (UK Sports) को 85 करोड़ डॉलर, स्पैनिश ला लिगा (Spanish La Liga) को एक अरब डॉलर, इटालियन सिरी ए (Italian Serie A) के निलंबित होने से 70.3 करोड़ डॉलर का नुकसान हो सकता है।

इंग्लिश प्रीमियर लीग (English Premier League) को भी निलंबित किया जा चुका है जिससे खेल जगत को 1.35 अरब डॉलर के नुकसान की आशंका है। इसके अलावा फ्रेंच लीग (French Ligue) को रद्द किया जा चुका है और इससे खेल कमेटी को 43 करोड़ डॉलर का नुकसान हो सकता है।

आईओसी प्रमुख थॉमस बाक के मुताबिक़ अगर खेलों में देरी होती रही तो 2022 में होने वाले बीजिंग ओलंपिक और 2024 में पेरिस में होने वाले समर गेम्स के आयोजन में और ज़्यादा देरी होगी।

ताज़ा वीडियो