भारत ने वैक्सीनेशन के मामले में US को पछाड़ा, क्या है औसत टीकाकरण का हाल ?

by GoNews Desk 1 year ago Views 2830

vaccination

भारत ने टीकाकरण के मामले में अमेरिका को भी पीछे छोड़ दिया है. सोमवार को स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह दावे किए हैं। 

दरअसल, मंत्रालय के जारी आंकड़ों के मुताबिक भारत में सोमवार तक 32.36 करोड़ लोगों को टीके की खुराक दी जा चुकी है जबकि जॉन्स होपकिंस युनिवर्सिटी के मुताबिक अमेरिका में इस समय तक 32.33 करोड़ लोगों का टीकाकरण किया जा चुका था.

भारत ने भले ही कुल टीकों की खुराक देने के मामले में अमेरिका को पछाड़ दिया हो लेकिन वैक्सीनेट की गई आबादी के मामले में देश अमेरिका के आसपास भी नहीं है. 27 जून के आंकड़ों के मुताबिक भारत में कुल 5.54 करोड़ लोगों का ही पूर्ण टीकाकरण हुआ है जबकि देश की आबादी 135 करोड़ है.

इस हिसाब से भारत की सिर्फ 4 फीसदी आबादी ही अब तक कोरोना रोधी टीकों की दोनों खुराकें प्राप्त कर पाई है. उधर जॉन्स होपकिंस युनिवर्सिटी के डेटा के मुताबिक अमेरिका अपनी कुल आबादी के 46.62% हिस्से को पूर्ण वैक्सीन देने में कामयाब रहा है. 

ऐसे में ये समझना होगा कि कोरोना रोधी टीके की कितनी खुराक दी गई ये मायने नहीं रखता बल्कि किसी देश की कितनी आबादी कोविड रोधी टीके से पूर्ण रूप से वैक्सीनेट हो कर संक्रमण के गंभीर परिणामों से सुरक्षित हो चुकी है, ये ज्यादा मायने रखती है. 

इनके अलावा केंद्र सरकार की ओर से लगातार दावे किया जा रहे हैं कि वह 31 दिसंबर 2021 तक देश की 18 साल से ज़्यादा उम्र की पूरी आबादी का टीकाकरण करने में सफल होगी लेकिन खुद सरकार भी देश में टीकों की कमी से अवगत है.

केंद्र ने हाल ही में SC में दायर एक हलफनामें में कहा कि उसे दिसंबर के अंत तक कोविड रोधी टीकों की 135 करोड़ खुराक प्राप्त होगी जबकि इससे पहले उसने दावा किया था कि देश को वैक्सीन निर्माता कंपनियों से 216 वैक्सीन डोज मिलना तय है. 

भारत में दिंसबर के अंत तक पूरी आबादी को वैक्सीनेशन के दायरे में लाने के लिए रोज 82 लाख लोगों के टीकाकरण करने की आवश्यकता है जबकि आंकडो़ं पर नज़र डाली जाए तो देश में टीकाकऱण में न ही स्थिरता है और न ही ज़रूरत के अनुसार वैक्सीनेशन किया जा रहा है. 

भारत में नई टीकाकऱण नीति के ऐलान के बाद 21 जून को 86.6 लाख लोगों को कोविड टीके की खुराक दी गई जबकि ठीक एक दिन बाद ही ये आंकड़ा नीचे गिर कर 54.24 लाख पर पहुंच गया. इसके बाद के दिनों में देखें तो 23 जून को 63.2 लाख, 24 जून को 52.89 लाख, 25 जून को 60.7 लाख, 26 जून को 61.9 लाख लोगों को टीके की खुराक दी गई थी जबकि 27 जून को देश में सिर्फ 17 लाख लोगों को ही कोरोना रोधी टीके की डोज दी गई. 

27 जून के आंकड़ों के मुताबिक भारत में 32.36 करोड़ लोगों का टीकाकरण किया जा चुका है. इनमें से 26.69 करोड़ से अधिक लोगों को वैक्सीन की पहली और सिर्फ 5.67 करोड़ को दूसरी डोज दी गई है. ऐसे में यह सवाल लाज़िमी है कि आखिर दिसंबर के आखिर तक देश की पूरी आबादी को वैक्सीनेट करने का केंद्र किस आधार पर दावा कर रहा है ?

ताज़ा वीडियो