कोरोना को वुहान वायरस कहना कितना जायज़ है?

by M. Nuruddin 2 years ago Views 3157

How is the corona called the Wuhan virus justified
एक तरफ दुनिया में कोरोनावायरस की महामारी है तो दूसरी तरफ चीन और अमेरिकी के बीच ज़ुबानी जंग भी जारी है। अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप इस वायरस को चाइनीज़ वायरस और वुहान वायरस बताकर चीन पर हमला बोल रहे हैं. इसपर पलटवार करते हुए चीन ने दावा किया कि ये वायरस अमेरिकी सैनिकों से फैला है। 

हालांकि चीन नहीं चाहता कि कोरोना वायरस को दुनिया चीनी वायरस या वुहान वायरस के नाम से जाने। लिहाज़ा, उसने अपने राजनयिकों को सक्रिय कर दिया है। चीनी विदेश मंत्री वांग यी ने भारतीय विदेश मंत्री मंत्री एस. जयशंकर से अपील की कि भारत इस वायरस को चाइनीज़ वायरस या वुहान वायरस की संज्ञा न दें। चीन ने कहा, “इस वायरस को चीन का लेबल लगाने और चीन को कलंकित करने के लिए अंतरराष्ट्रीय सहयोगी स्वीकार्य नहीं है। उम्मीद है कि भारत भी इसका विरोध करेगा।”


चीन ने दावा किया कि एस. जयशंकर इस बात पर सहमत थे कि वायरस को चीनी लेबल नहीं लगाया जाना चाहिए।” हालांकि विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने इसपर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी। उन्होंने कहा कि ये एक वैश्विक समस्या है और इससे साथ मिलकर निपटना चाहिए।

हालांकि कोरोना वायरस से पहले एमईआरएस यानि मिडिल ईस्ट रेज़पिरेटरी सिंड्रोम, निपा वायरस, ज़ीका वायरस, ईबोला वायरस को इनके ऑरिजिन के नाम से ही बुलाया जाता रहा है।

एमईआरएस

ये वायरस साल 2012 में सबसे पहले सऊदी अरब में देखा पाया गया था। अप्रैल 2012 तक 2,494 लोगों में इसका संक्रमण फैला जिससे 858 लोगों की मौत हो गई। लगभग 27 देश इस वायरस की चपेट में आए थे। चूंकी इस वायरस का प्रकोप मिडिल ईस्ट में ज़्यादा देखा गया इसलिए इस वायरस का नाम मिडिल ईस्ट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम या MERS-CoV रखा गया।

निपा वायस

ये वायरस साल 1998 में मलेशिया के सुंगई निपा नाम की जगह से पनपा था। इस वायरस की मृत्यु दर 40 से 75 फीसदी थी। साल 2018 में केरल के दो ज़िलों कोझीकोड़ और मल्लपुरम में इस वायरस का संक्रमण फैला था। 19 लोग निपा से संक्रमित हुए थे जिनमें 17 लोगों की मौत हो गई थी। 

इसी तरह ज़ीका वायरस की शुरूआत यूगांडा के ज़ीका नाम के जंगल से हुई। वहीं ईबोला वायरस की शुरूआत अफ्रीका के ईबोला नदी के पास से हुई और ऐसे कई संक्रमण से फैलने वाली बीमारियां हैं जिनके ऑरिजिन के नाम पर ही नामकरण किया गया। इसलिए पूछा जा रहा है कि कोरोना की शुरूआत चीन के वुहान शहर से हुई तो उसे वुहान वायरस कहने में क्या समस्या है?

ताज़ा वीडियो