ads

एच1-बी वीज़ाधारकों पर लगी पाबंदी में रियायत मिली, सशर्त अमेरिका लौटने की इजाज़त

by Ankush Choubey 9 months ago Views 981

H1-B Visa Holders Restricted, Concession Allowed t
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने एच1-बी वीज़ा नियमों में कुछ रियायत देने का ऐलान किया है जिससे भारतीय नागरिकों को ख़ासी राहत मिली है. नियमों में रियायत मिलने के बाद एच1-बी वीज़ाधारक अमेरिका जा सकते हैं लेकिन कुछ नई शर्तें भी लगाई गई हैं.

अमेरिका के स्टेट डिपार्टमेंट के मुताबिक एच1-बी वीज़ा धारक प्रतिबंध से पहले जिस कंपनी में काम कर रहे थे, अगर वहां उन्हें नौकरी मिलती है तो उन्हें वापस लौटने दिया जाएगा. वीजा धारक की पत्नी और बच्चे भी प्राइमरी वीजा के साथ अमेरिका में आ सकेंगे. इसके साथ ही तकनीकी विशेषज्ञ, सीनियर लेवल मैनेजर और उन लोगों को अमेरिका आने की इजाजत दी गई है जिनकी वजह से अर्थव्यवस्था प्रभावित हो रही है.


22 जून को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने इस साल के लिए H1-B वीजा निलंबित करने का ऐलान किया था. इससे सबसे बड़ा झटका भारत के आईटी प्रोफेशनल्स को लगा था क्योंकि हर साल जारी होने वाले हज़ारों एच1-बी वीज़ा में भारतीय आईटी प्रोफेशनल्स सबसे बड़े हिस्सेदार हैं.

अमेरिका में प्रवासियों को रोकना राष्ट्रपति ट्रंप की घोषित नीति है. वो बार-बार कहते रहे हैं कि जिन नौकरियों पर अमेरिकी नागरिकों का अधिकार है, उसपर प्रवासियों ने कब्ज़ा जमा रखा है. कोरोना महामारी के दौर में अमेरिका में बेरोज़गारी में बेतहाशा बढ़ोतरी हुई है. लिहाज़ा, अप्रवासियों को रोकने के लिए राष्ट्रपति ट्रंप को यह सबसे ज़रूरी वक़्त लगा था. उन्होंने वीज़ा सेवा पर तमाम पाबंदियां लगाई थीं लेकिन अब नरम पड़ते दिख रहे हैं.

ताज़ा वीडियो