बार-बार हो रही फायरिंग के बीच जामिया के छात्र एग़्जाम देने को मजबूर

by Ankush Choubey 2 years ago Views 2067

Firing again in Jamia, third firing incident in 4
महज़ चार दिन के भीतर जामिया मिलिया इस्लामिया के पास फायरिंग की दो-दो वारदात से पूरे इलाक़े में तनाव का माहौल है. इस वारदात के बाद प्रदर्शनकारियों ने दिल्ली पुलिस की लापरवाही का आरोप लगाते हुए जामिया नगर पुलिस स्टेशन का घेराव किया और कड़ी कार्रवाई की मांग की.  

दिल्‍ली के जामिया मिल्लिया इस्लामिया में गेट नंबर पांच पर रविवार रात साढ़े ग्यारह बजे फायरिंग से सनसनी मच गई. इस वारदात में कोई ज़ख़्मी नहीं हुआ लेकिन हमलावर भी आसानी से फ़रार हो गए. जामिया कोऑर्डिनेशन कमेटी ने एक बयान जारीकर कहा है कि हमलावर लाल रंग की स्कूटी पर आए थे और एक हमलावर ने लाल रंग की जैकेट पहन रखी थी।  


जामिया मिल्लिया इस्लामिया में महज़ चार दिन के भीतर यह फायरिंग की दूसरी वारदात है. फायरिंग का एक मामला शनिवार की शाम शाहीन बाग़ में भी देखने को मिला था. फायरिंग की बार-बार वारदात के लिए जामिया और शाहीन बाग़ के प्रदर्शनकारियों ने दिल्ली पुलिस को ज़िम्मेदार ठहराया है. नाराज़ लोगों ने देर रात जामियानगर पुलिस थाने का घेराव किया और दिल्ली पुलिस मुर्दाबाद के नारे लगाए.

जामिया मिल्लिया इस्लामिया के गेट नंबर सात पर नागरिकता क़ानून के ख़िलाफ़ 15 दिसंबर से प्रदर्शन चल रहा है तो कैंपस में एग्ज़ाम्स चल रहे हैं. फायरिंग की बार-बार हो रही वारदात से छात्रों में डर का माहौल बढ़ता जा रहा है. वहीं एसीपी जगदीश यादव ने कहा कि हमलावर की शिनाख़्त करके कार्रवाई की जाएगी
वीडियो देखिये

जामिया मिल्लिया इस्लामिया और शाहीन बाग़ का इलाक़ा दक्षिण पूर्वी दिल्ली पुलिस के दायरे में आता है. इसकी कमान डीसीपी चिन्मॉय बिस्वाल के हाथ में थी लेकिन इस इलाक़े में लगातार बिगड़ती क़ानून व्यवस्था के चलते चुनाव आयोग ने उनका तबादला कर दिया है. अब दक्षिण पूर्वी दिल्ली पुलिस का नया डीसीपी कुमार ज्ञानेश को बनाया गया है.

ताज़ा वीडियो