बीजेपी नेताओं के विवादित बोल जारी, अब दिलीप घोष ने दिया बड़ा बयान

by Rahul Gautam 4 months ago Views 1888
BJP leaders' provocative statements against protes
देश के अलग-अलग हिस्सों में बीजेपी के सांसद और नेता नागरिकता क़ानून विरोधी प्रदर्शनकारियों के ख़िलाफ हिंसक, भड़काऊ और नफ़रतभरी बयानबाज़ी कर रहे हैं. कर्नाटक, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल समेत कई राज्यों से आ रहे बीजेपी नेताओं के बयानों पर कार्रवाई नहीं की गई तो पटरी से उतर चुकी क़ानून व्यवस्था और बिगड़ सकती है.

विवादित नागरिकता कानून पर जारी विरोध प्रदर्शनों के बीच संवैधानिक पदों पर क़ाबिज़ बीजेपी नेता बार-बार हिंसक और भड़काऊ बयान दे रहे हैं. इस कड़ी में अब पश्चिम बंगाल के बीजेपी अध्यक्ष और सांसद दिलीप घोष का भी नाम जुड़ गया है. उन्होंने राज्य के नादिया जिले में कहा, ‘दीदी की पुलिस ने सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान करने वालों पर कोई कार्रवाई नहीं की क्यूंकि वे उनके वोटर हैं। उत्तर प्रदेश, असम और कर्नाटक में हमारी सरकारों ने ऐसे लोगों को कुत्तों की तरह मारा।   

Also Read: JNU हमले के 10 दिन बाद भी कोई गिरफ्तारी नहीं, आइशी घोष समेत तीन छात्रों से पूछताछ

इससे पहले अलीगढ़ में नागरिकता क़ानून के समर्थन वाली एक रैली में बीजेपी नेता रघुराज सिंह ने भड़काऊ बयान दिया. उन्होंने कहा ‘ये मुट्ठीभर लोग पीएम मोदी और सीएम योगी के ख़िलाफ़ मुर्दाबाद का नारा लगाएंगे? योगी और मोदी तुमको ज़िंदा दफ़न कर देंगे।

वहीं तेलंगाना के करीमनगर से सांसद बंदी संजय कुमार ने नागरिकता क़ानून विरोधी प्रदर्शनकारियों के ख़िलाफ़ हिंसा की धमकी दी है. उन्होंने कहा, 'अगर तुम पत्थर मारोगे, तो हम बम मारेंगे। अगर तुम लाठी मारोगे, हम चाकू से पलटवार करेंगे। अगर तुम बम मारोगे, तो हम लांचर दागेंगे. जंग शुरू हो चुकी है और हम किसी को नहीं छोड़ेंगे।आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने पूछा कि बीजेपी ऐसे नेताओं पर कार्रवाई नहीं करती. इसकी क्या वजह है.

वीडियो देखिये

नागरिकता क़ानून को लेकर जब देश में माहौल तनावपूर्ण बना हुआ है तब बीजेपी नेताओं के ऐसे भड़काऊ बयान आग में घी डालने का काम कर रहे हैं. अगर ऐसे नेताओं पर कार्रवाई नहीं हुई तो देश में हालात बिगड़ सकते हैं.