खुले में मास्क नहीं पहनने वालों से दिल्ली पुलिस ने वसूले 6 करोड़ रुपए

by M. Nuruddin 2 years ago Views 1537

Delhi Police recover Rs 6 crore from those who do
देश कोरोनावायरस से जंग लड़ रहा है. इस वायरस को मात देने में सोशल डिस्टेंसिंग के अलावा मास्क पहनना सबसे कारगर हथियार बताया गया है. इसी सिलसिले में कई राज्य सरकारें इन दोनों चीज़ों को सख्ती से लागू करवा रही है। दिल्ली समेत कई राज्यों की पुलिस खुले में बिना मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन और थूकने पर लोगों पर करोड़ों रुपए का जुर्माना लगा रही है।

बता दें, अकेली दिल्ली पुलिस ऐसे मामलों में एक लाख से भी ज़्यादा चालान काट चुकी है. दरअसल, बीते 14 जून को दिल्ली के उप राज्यपाल अनिल बैजल ने एक नोटिफिकेशन जारी कर मास्क नहीं पहनने, सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का उल्लंघन करने, पब्लिक प्लेस में पान मसाला, गुटखा और तंबाकू का सेवन करने वाले लोगों पर जुर्माना लगाने का आर्डर दिया था.


इस नोटिफिकेशन में कहा गया था कि इन नियमों को ना मानने वालों से 500 रूपये वसूले जायें और अगर दोबारा उल्लंघन करते पकड़े गए तो दोगुना फाइन वसूला जायें।

दिल्ली पुलिस के आंकड़े बताते हैं कि 7 अगस्त तक ऐसे एक लाख 26 हज़ार 479 चालान काटे गए हैं. इनमें सबसे ज्यादा चालान मास्क के उल्लंघन की वजह से काटे गए हैं. जहां एक तरफ 1 लाख 9 हज़ार 140 मास्क उल्लंघन के मामलों में चालान काटे गए, वहीं सोशल डिस्टेंसिंग ना मानने की वजह से 15 हज़ार 199, पब्लिक प्लेस पर थूकने के चलते 1 हज़ार 937 और पान, गुटखा और तम्बाकू खाने की वजह से दिल्ली पुलिस ने 1 हज़ार 42 चालान काटे हैं.

ज़ाहिर है इन आकड़ों से दिल्ली पुलिस अब तक अबतक 6 करोड़ 32 लाख 39 हज़ार 500 रूपये का जुर्माना लोगों पर लगा चुकी है। अकेले 7 अगस्त को को ही 3,589 चालान काटने से 17 लाख  94 हज़ार 500 रूपये जुटाए गए.

ना सिर्फ दिल्ली पुलिस सख्ती से नियमों को लागू करवा रही है, बल्कि ज़रूरतमंद लोगों में मास्क भी बांट रही हैं. 14 जून की नोटिफिकेशन के बाद से दिल्ली पुलिस के अधिकारियों ने 2,149 मास्कों का वितरण किया है.

बता दें कि चालान काटने के ये नियम दिल्ली दिल्ली एपिडेमिक डिज़ीज़ (मैनेजमेंट ऑफ कोविड-19) रेगुलेशन 2020 के तहत लिए गए हैं.

ताज़ा वीडियो