कोरोना के कुचक्र में फंसा देश, लगातार दूसरे दिन 90 हज़ार से ज़्यादा मामले

by Shahnawaz Malik 1 year ago Views 1077

Country trapped in Corona's vicious cycle, more th
देश में लगातार दूसरे दिन कोरोनावायरस के 90 हज़ार से ज़्यादा मामले सामने आए हैं जिससे देश में बुरी तरह फैल चुके संक्रमण का अंदाज़ा लगाया जा सकता है. स्वास्थ्य मंत्रालय के ताज़ा आंकड़ों के मुताबिक बीते 24 घंटे में 90 हज़ार 802 नए मरीज़ मिले और एक हज़ार 16 लोगों की मौत हुई.

इन आंकड़ों के बाद देश में कुल संक्रमित मरीज़ों की संख्या 42 लाख 4 हज़ार 614 पर पहुंच गई है और ब्राज़ील पीछे छूट गया है. अब मरीज़ों के मामले में भारत अमेरिका के बाद दुनिया का दूसरा सर्वाधिक प्रभावित देश है.


देश में अब तक 71 हज़ार 642 लोग इस महामारी की चपेट में आकर मारे जा चुके हैं. अमेरिका में एक लाख 93 हज़ार और ब्राज़ील में एक लाख 26 हज़ार के बाद मौत का यह सबसे बड़ा आंकड़ा है. जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी के मुताबिक भारत में एक्टिव मरीज़ों की संख्या 8 लाख 83 हज़ार 578 और क्रिटिकल मरीज़ों की संख्या 8 हज़ार 944 है जोकि अमेरिका के बाद सबसे ज़्यादा है.

यह आंकड़े पीएम मोेदी के दावे को झुठलाते हैं जब उन्होंने कई बार देश के नाम संबोधन में कहा कि उनकी सरकार के सही फ़ैसलों ने कोरोना के ख़तरे को कम किया है. मगर सच तो यह है कि देश में दस्तक देने के बाद कोरोना का ख़तरा घटने की बजाय बढ़ता जा रहा है. केंद्र और राज्य सरकारें संक्रमण को रोक पाने में बुरी तरह नाकाम साबित हुई हैं. विशेषज्ञों की मानें तो भारत इस महामारी के कुचक्र में सबसे बुरी तरह फंसा है और इससे बाहर निकलने का रास्ता दूर-दूर तक नज़र नहीं आता.

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कोरोना से जुड़ी ख़बरों की कतरनें सोशल मीडिया पर साझा की हैं. उन्होंने यह भी कहा है कि मोदी सरकार देश को संकट में पहुंचाकर समाधान ढूंढने की बजाय शुतुरमुर्ग बन जाती है. हर ग़लत दौड़ में देश आगे है. कोरोना संक्रमण के आंकड़े हों या फिर जीडीपी में गिरावट.

ताज़ा वीडियो