CAA: दिल्ली के जाफराबाद में दूसरे दिन भी हिंसा जारी, एक पुलिसकर्मी की मौत

by Rahul Gautam 3 months ago Views 980
CAA: Violence continues for the second day in Delh
राजधानी दिल्ली में नागरिकता क़ानून के समर्थकों और विरोधियों के बीच हुए टकराव के बाद हिंसा भड़क गई. इस दौरान कई घरों, दुकानों और गाड़ियों में आगज़नी की गई और एक पुलिस कांस्टेबल की मौत भी हो गई. प्रभावित इलाक़ों में फिलहाल धारा 144 लगा दी गई है औ तनाव का माहौल बरक़रार है.


विवादित नागरिकता क़ानून के चलते राजधानी दिल्ली के उत्तर पूर्वी इलाक़े में क़ानून व्यवस्था घुटने के बल आ गई है. यहां लगातार दूसरे दिन इस क़ानून के विरोधियों और समर्थकों के टकराव से हिंसा भड़क गई. इस दौरान गोकलपुरी थाने में तैनात एक हेड कांस्टेबल रतनलाल की मौत हो गयी जबकि शाहदरा के डीसीपी ज़ख़्मी हो गए हैं. 

Also Read: देश में दाल और दूध की खपत में गिरावट, दामों में उछाल का अनुमान

उत्तर पूर्वी दिल्ली के ज़ाफ़राबाद, मौजपुर, सीलमपुर, चांदबाग़, करदमपुरी इलाक़े में सबसे ज़्यादा हिंसा का असर देखा गया. ज़ाफ़राबाद में  3 गाड़िया और 4 दुकान जला दी गई जबकि करावल नगर में एक पेट्रोल पंप पर भी आगज़नी हुई. इन इलाक़ों में पथराव के बाद पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा और पूरे इलाक़े में भगदड़ मच गई. कुछ हिस्सों में आगज़नी के बाद कम से कम 10 इलाक़ों में धारा 144 लगा दी गई है. दिल्ली पुलिस ने एक बयान जारीकर लोगों से शांति और सदभाव बनाए रखने की अपील की है और अफ़वाहों पर ध्यान न देने के लिए कहा है. 

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट किया, ‘दिल्ली के कुछ हिस्सों में शांति, सद्भाव बिगाड़ने वाली ख़बर बेहद परेशान करने वाली है. मैं एलजी अनिल बैजल और गृह मंत्री अमित शाह से अपील करता हूं कि क़ानून व्यवस्था के साथ-साथ शांति व्यवस्था भी बहाल कराएं. किसी को भी इस तरह की जघन्यता की इजाज़त नहीं होनी चाहिए.’