'Bulli Bai App' : मुस्लिम महिलाओं को टार्गेट करने वाले चार आरोपी हिरासत में

by GoNews Desk 7 months ago Views 1722

'Bulli Bai': Four accused targeting Muslim women i
मुस्लिम महिलाओं को बदनाम करने की कथित साज़िश के मामले में मुंबई पुलिस और दिल्ली पुलिस ने अपने-अपने स्तर पर कार्रवाई की है। इस मामले में अबतक चार आरोपियों को पुलिस ने हिरासत में लिया है। इनमें दो आरोपियों को उत्तराखंड से, एक को बंगलुरु से और एक आरोपी को असम से हिरासत में लिया गया है।

हिरासत में लिए गए आरोपियों में 21 वर्षीय मयंक रावल जो एक इंजीनियरिंग का छात्र है, 18 वर्षीय श्वेता सिंह, 21 वर्षीय इंजीनियरिंग स्टूडेंट विशाल कुमार झा, 21 वर्षीय नीरज बिश्नोई शामिल हैं।


18 वर्षीय विशाल कुमार झा को मुंबई पुलिस ने बेंगलुरु से गिरफ्तार किया और मुंबई की बांद्रा अदालत में पेश किया। आरोपी को 10 जनवरी तक पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है।

माना जाता है कि विशाल झा इंजीनियरिंग का छात्र है और उसने कथित तौर पर तीन अन्य लोगों के साथ मिलकर FitHub प्लेटफॉर्म पर “बुल्ली बाई डील ऐप” पर मुस्लिम महिलाओं की ऑनलाइन नीलामी की साज़िश रची थी।

कुछ दिनों बाद मुंबई पुलिस ने 18 वर्षीय श्वेता सिंह को उत्तराखंड से गिरफ्तार किया। बाद में उन्हें मुंबई ले जाया गया।

मुंबई पुलिस ने मामले में तीसरे आरोपी मयंक रावल को 5 जनवरी को उत्तराखंड से गिरफ्तार किया था। आरोपी दिल्ली के जाकिर हुसैन कॉलेज में बीएससी के छात्र है। माना जाता है कि उनके पिता सशस्त्र बलों में सेवारत हैं और वर्तमान में जम्मू में तैनात हैं।

दिल्ली पुलिस का दावा है कि असम से हिरासत में लिए गए आरोपी नीरज बिश्नोई ही मामले में मुख्य आरोपी है जिसने “बुल्ली एप” बनाया है। 21 वर्षीय बिश्नोई भोपाल के एक संस्थान में बीटेक द्वितीय वर्ष का छात्र है। 

मामले में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान, मुंबई पुलिस ने 5 जनवरी को कहा कि ऐप बनाने के पीछे "कुछ समुदाय की भावनाओं को आहत करने के लिए इसे बड़े पैमाने पर प्रसारित करना" था।

मुंबई पुलिस ने कहा, “बुली बाई ऐप के माध्यम से विशेष समुदायों से संबंधित महिलाओं को टार्गेट करना और उन्हें बदनाम करना था। इस एप को 31 दिसंबर को बनाया गया था। इसकी जानकारी मिलते ही हमने तुरंत मामला दर्ज कर लिया।”

ताज़ा वीडियो