महाराष्ट्र में विधान परिषद की 6 में से 5 सीटें हार गयी बीजेपी

by M. Nuruddin 1 year ago Views 1025

खा़स बात है कि भाजपा को नागपुर स्नातक सीट पर भी हार मिली है जो पार्टी का गढ़ माना जाता है।

BJP lost 5 out of 6 seats of Legislative Council i
महाराष्ट्र के विधान परिषद चुनाव में भाजपा को करारा झटका लगा है। विधान परिषद की 6 सीटों में उसे सिर्फ एक पर जीत मिली है। चार सीटें सत्तारूढ़ महा विकास अघाड़ी ने जीती हैं और एक पर निर्दलीय को जीत हासिल हुई है। हालांकि सत्तारूढ़ गठबंधन का नेतृत्व कर रही शिवसेना एक भी सीट नहीं जीत सकी लेकिन एनसीपी और कांग्रेस ने दो-दो सीटों पर जीत हासिल की है।

बीजेपी नेता और महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा है कि परिणाम उम्मीद के मुताबिक़ नहीं रहे।उन्हें इससे बेहतर की उम्मीद थी। उन्होंने कहा कि ‘हमने तीनों दलों की संयुक्त शक्ति के आकलन में ग़लती की।’ भाजपा को यह जीत धुले-नंदरबार सीट पर मिली है।


इस सीट पर कांग्रेस के एमएलसी अंबरीष पटेल के भाजपा में शामिल होने के बाद उपचुनाव हुए थे। बता दें कि भाजपा के चंद्रकांत पाटिल, एनसीपी के सतीश चव्हाण और भाजपा के अनिल सोले और शिक्षकों के निर्वाचन क्षेत्रों से दो निर्दलीय एमएलसी दत्तात्रेय सावंत और श्रीकांत देशपांडे के रिटायरमेंट के बाद 1 दिसंबर को चुनाव हुए थे।

खा़स बात है कि भाजपा को नागपुर स्नातक सीट पर भी हार मिली है जो पार्टी का गढ़ माना जाता है। इस क्षेत्र का केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी और महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के पिता गंगाधर राव फडणवीस भी प्रतिनिधित्व कर चुके हैं। केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने इस सीट से पांच बार भाजपा को जीत दिलाई थी। हालांकि अब विधान परिषद की यह सीट कांग्रेस के पाले में चली गई है। वहीं भाजपा के ही गढ़ अमरावती में भी कांग्रेस ने ही जीत हासिल की है।

इसके अलावा पुणे और औरंगाबाद की स्नातक सीट पर भी भाजपा को हार मिली। जबकि यहां राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और भाजपा अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने भी जनसभायें की थी। इन दोनों सीटों पर एनसीपी ने बड़ी जीत हासिल की है। महाराष्ट्र सरकार में मंत्री और एनसीपी नेता नवाब मलिक ने कहा कि ‘चुनाव के परिणाम बताते हैं कि महाविकास अघाड़ी और एनसीपी ने जनता के लिए काम किया है और बीजेपी को सच समझने की ज़रूरत है।

ताज़ा वीडियो