ads

तमिलनाडु में पुलिस बर्बरता का नया मामला, ऑटो रिक्शा चालक की पुलिस कस्टडी में पिटाई से मौत

by Ankush Choubey 10 months ago Views 6032

की थाने में हुई पिटाई से मौत

Auto rickshaw driver dies due to police brutality
तमिलनाडु के तूतीकोरिन में पिता-पुत्र की पुलिस कस्टडी में हुई मौत का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था की अब एक और पुलिस बर्बरता का मामला राज्य में सामने आया है। तमिलनाडु के ही तेनकाशी जिले में 25 साल के ऑटोरिक्शा ड्राइवर को पुलिस ने इतनी बर्बरता से पीटा कि उसकी मौत हो गई है। वीराकेरलामपुरडुर के रहने वाले एन कुमारसेन के पिता नवनीतकृष्णन ने आरोप लगाया है की दो पुलिसवालों ने उनके बेटे को इतनी बुरी तरह पीटा की उसने शनिवार को अस्पताल में दम तोड़ दिया।

घर वालों के मुताबिक पीड़ित कुमारसेन को 12 जून को एक प्रॉपर्टी विवाद में पुलिस थाने बुलाया गया जहां उसके साथ मारपीट कर उसे बुरी तरह घायल कर दिया। बाद में उसे तिरुनेलवेली के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां 15 दिन मौत से जूझने के बाद उसकी मृत्यु हो गई। इस पूरे प्रकरण के सामने आने के बाद गांव वालों और पीड़ित के रिश्तेदारों ने सड़क जाम कर प्रदर्शन किया और दोषी पुलिसवालों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज करने की मांग की।


इसके बाद, पीड़ित के पिता ने सब इंस्पेक्टर चंद्रशेखर और कॉन्स्टेबल कुमार के खिलाफ केस दर्ज कराया है। मामले के दर्ज़ होने के बाद फ़िलहाल दोनों पुलिसकर्मियों को ससपेंड करते हुए जाँच के आदेश दे दिए गए हैं।

एक और पुलिस बर्बरता का मामला सामने आने के बाद राज्य की राजनीती भी गर्मा गई है। डीएमके अध्यक्ष एम के स्टालिन ने इस घटना की निंदा करते हुए पूछा है कि क्या मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी ने राज्य को पुलिस के हाथों में सौंप दिया है? मुख्यमंत्री क्या कर रहे हैं, उन्होंने ट्विटर पर कहा।

एक अन्य घटना में, तूतीकोरिन जिले के एट्टायपुरम के एक मज़दूर ने पुलिस द्वारा परेशान किए जाने के बाद आत्महत्या कर ली।

ताज़ा वीडियो