भारत में 135 करोड़ में 5 करोड़ पूरी तरह से वैक्सीनेटेड

by M. Nuruddin 1 year ago Views 2566

5 crore fully vaccinated out of 135 crore in India
नई वैक्सीनेशन पॉलिसी लागू करने के साथ ही दावे किए गए कि भारत में प्रतिदिन एक करोड़ लोगों को वैक्सीन दिए जाएंगे लेकिन पहले दिन सोमवार को 88 लाख की संख्या के बाद इसमें कमी देखी जा रही है। सरकार अपने लक्ष्य तक तभी पहुंच सकती है जब राज्यों को वैक्सीन की पर्याप्त मात्रा में आपूर्ति की जाए और वैक्सीन की उपलब्धता में कमी न हो।

अगर साप्ताहिक आंकड़े देखें तो 3 से 9 अप्रैल के बीच सबसे ज़्यादा 2.47 करोड़ लोगों को वैक्सीन लगाई गई थी। इसी दौरान संक्रण की दूसरी लहर का प्रकोप शुरु हो गया था।


हालांकि संक्रण की रफ़्तार बढ़ने पर देश में ऑक्सीजन की कमी के साथ वैक्सीन की कमी भी देखी गई जिससे वैक्सीनेशन में गिरावट आ गई। सबसे कम 15 से 21 मई के दौरान एक हफ्ते में महज़ 92 लाख लोगों को ही वैक्सीन दिए जा सके।

हालांकि राज्यवार कितने लोगों को पूर्ण रूप से वैक्सीनेट किया गया है इसका डेटा नहीं है लेकिन आवर वर्ल्ड इन डेटा के मुताबिक़, करीब चार महीने में ओवर ऑल 3.7 फीसदी यानि 135 करोड़ में 5.1 करोड़ आबादी को पूर्ण रूप से वैक्सीनेट किया जा सका है।

इनके अलावा 14 फीसदी यानि 18.7 करोड़ आबादी को पहली डोज़ दी गई है। यह भी जानना ज़रूरी है कि वैज्ञानिकों की चेतावनी के बावजूद इन 14 फीसदी आबादी को दूसरी डोज़ के लिए 12-16 हफ्ते का इंतज़ार करना पड़ेगा। आईसीएमआर का यह भी कहना है कि भारत अगर अपनी 30 फीसदी आबादी को पहली डोज़ भी लगा देता है तो संक्रण के चेन को ब्रेक करने में बड़ी मदद मिल सकती है।

अगर दुनिया में वैक्सीनेशन के आंकड़े देखें तो जस्टिन ट्रुडा का कनाडा टॉपर पर है जहां करीब 67 फीसदी आबादी को वैक्सीन का कम से कम एक डोज़ लगा दिया गया है। इसके बाद इज़रायल में 63.6 फीसदी, ब्रिटेन में 63.5 फीसदी, अमेरिका में 53.1 फीसदी और इटली में करीब 53 फीसदी आबादी को कम से कम एक डोज़ दे दी गई है। इस लिस्ट में भारत सबसे नीचे है जहां वैक्सीन उत्पादन के बावजूद ख़बर लिखे जाने तक 17.2 फीसदी आबादी को कम से कम एक डोज़ दी गई है।

आंकड़े बताते हैं कि दुनिया की लगभग 1.7 अरब आबादी, या 22 फीसदी आबादी को COVID-19 वैक्सीन की कम से कम एक डोज़ दे दी गई है। कुल 78.3 करोड़ लोग या दुनिया की 10 फीसदी आबादी को कोरोना के ख़िलाफ़ पूरी तौर पर वैक्सीनेट कर दिए गए हैं। इनके अलावा दुनिया की 93.3 करोड़ आबादी को कम से कम एक डोज़ लगा दी गई है।

ताज़ा वीडियो