महामारी और लॉकडाउन के बीच 3000 कंपनियों का मुनाफ़ा 130 फीसदी बढ़ा

by Rahul Gautam 1 year ago Views 1677

3000 companies profit up 130% between epidemic and
महामारी और उसके चलते हुए लॉकडाउन से देश में हुए आर्थिक नुक्सान का आकलन जारी है। हालांकि, कंपनियों के खातों से एक और नई तस्वीर सामने आ रही है। आर्थिक गतिविधियों को रिपोर्ट करने वाली एजेंसी कैपिटालाइन के एक सर्वे के मुताबिक 2020 में सितंबर तिमाही में कंपनियों का मुनाफ़ा 2019 की सितंबर तिमाही के मुकाबले 129 प्रतिशत बढ़ गया।

ध्यान रहे, जुलाई, अगस्त और सितंबर वो महीने थे जब अर्थव्यवस्था को पूरी तरह बंद करने के बाद दोबारा खोला जा रहा था। लेकिन उस समयकाल में भी कंपनियाँ कम सामान बेचकर भी जमकर चाँदी काट रही थी।


कैपिटालाइन के आंकड़ों जहा इस सर्वे में भाग लेने वाली 3000 कंपनियों का मुनाफ़ा 2019 की सितंबर तिमाही में 40.2 फीसदी घटकर 77 हज़ार 342 करोड़ पर आ गया था, वही इस साल की सितंबर तिमाही में यह 129.4 फीसदी चढ़कर 1 लाख 77 हज़ार करोड़ रुपए के पार पहुँच गया।

हालांकि, इस दौरान यह कंपनियाँ पहले से कम सामान बेच रही थी। मसलन 2019 की सितंबर तिमाही में इन कंपनियों की बिक्री में 1.42 फीसदी की गिरावट आई थी और कुल बिक्री का आंकड़ा था 21 लाख 24 हज़ार करोड़ रुपए। दूसरी तरफ इस वर्ष की सितंबर तिमाही में कंपनियों की बिक्री 5.5 फीसदी घटी और कुल बिक्री का आंकड़ा पहुँच गया 20 लाख 7 हज़ार करोड़ रुपए।

आसान भाषा में कहे तो माल कम बिक रहा है लेकिन मुनाफ़ा ज्यादा हो रहा है। अब सवाल उठता है की ऐसा हो कैसे रहा है। दरअसल, इसका जवाब हैं लॉकडाउन के कारण ठप्प हुई आर्थिक गतिविधिया। दरअसल लॉकडाउन के दौरान कई कंपनियों ने अपने खर्चो पर रोक लगाई, जैसे किराया, पगार और कच्चा माल। इन सब चीज़ो पर खर्च में कटौती करने के बाद कंपनी के खाते में ज्यादा पैसा बचने लगा और भले ही उनकी बिक्री में कमी आई हो, लेकिन उनका मुनाफ़ा बढ़ा है।

 

ताज़ा वीडियो