ads

प्रिंट मीडिया के पत्रकारों पर कोरोना की मार, अबतक कुल 210 की संक्रमण से मौत: रिपोर्ट

by GoNews Desk 1 month ago Views 1344

संक्रमण की वजह से भारी संख्या में मारे जा रहे पत्रकारों को देखते हुए 6 राज्यों ने पत्रकारों को फ्रंटलाइन वर्कर्स और कोविड वॉरियर घोषित किया है...

210 journalists in India died of Covid-19: Rate th
कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर में बड़ी संख्या में पत्रकारों की मौत हो रही है। रेट दि डिबेड कैंपेन की रिपोर्ट में बताया गया है कि महामारी में सबसे ज़्यादा प्रिंट मीडिया के पत्रकारों की मौत हो रही है। यह रिपोर्ट दिल्ली की इंस्टीट्यूट ऑफ पर्सिप्शन स्टडीज़ द्वारा तैयार की गई है। 

रिपोर्ट में बताया गया है कि पिछले साल 1 अप्रैल से इस साल के 10 मई तक 210 पत्रकारों की संक्रमण की वजह से मौत हो गई। इनमें 1 अप्रैल 2020 से 31 दिसंबर 2020 तक 56 पत्रकार संक्रमण की वजह से मारे गए थे। जबकि संक्रमण की दूसरी लहर के दौरान 1 अप्रैल से 10 मई के बीच 143 पत्रकारों की मौत हो गई। 


कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर इतनी घातक है कि हर दस दिनों में 35 पत्रकारों की मौत हो रही है। जबकि पिछले साल पहली लहर के दौरान हर दस दिनों में एक पत्रकार मारे गए थे। यही नहीं 1 अप्रैल 2020 से 10 मई 2021 के बीच 72 पत्रकार ऐसे थे जिनकी मौत की वजह वैरिफाइड नहीं है।

रिपोर्ट में बताया गया है कि 6 राज्यों तेलंगाना, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, महाराष्ट्र, ओडिशा और मध्य प्रदेश में भारी संख्या में पत्रकारों की मौत हो रही है। महारामारी में मारे जा रहे पत्रकारों में 54 फीसदी से ज़्यादा यानि 114 पत्रकार प्रिंट मीडिया के थे और 24 फीसदी से ज़्यादा यानि 52 पत्रकार टीवी और डिजिटल मीडिया के थे। इनके अलावा 39 फ्रीलांस पत्रकारों की मौत हुई, जबकि पांच पत्रकारों की मौते के बारे में जानकारी साफ नहीं है। 

संक्रमण की वजह से भारी संख्या में मारे जा रहे पत्रकारों को देखते हुए 6 राज्यों ने पत्रकारों को फ्रंटलाइन वर्कर्स और कोविड वॉरियर घोषित किया है। अंग्रेज़ी अख़बार हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक़ पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, मध्य प्रदेश, बिहार, उत्तराखंड और ओडिशा सरकार ने पत्रकारों को फ्रंटलाइन वर्कर्स की कैटगरी में शामिल किया है। 

ओडिशा सरकार ने ड्यूटी के दौरान मारे जा रहे पत्रकारों के परिवार को 15-15 लाख रूपये मुआवज़ा देने का भी ऐलान किया है। अप्रैल महीने में ऑल इंडिया मेडिकल एसोसिएशन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखकर पत्रकारों को कोविड वॉरियर घोषित करने की मांग की थी लेकिन प्रधानमंत्री मोदी की तरफ से इसपर फिलहाल कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। 

ताज़ा वीडियो