2022, चुनाव का महाकुंभ: इन सात राज्यों में होने हैं विधानसभा चुनाव

by Sarfaroshi 7 months ago Views 2777

Assembly Election in india
साल 2022 में जिन सात राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं उनमें उत्तर प्रदेश, पंजाब, गुजरात, गोआ, मणिपुर, उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश शामिल है। इन राज्यों के विधानसभा चुनाव में सबकी निगाहें उत्तर प्रदेश पर है, जहां कथित तौर पर केन्द्रीय सत्ता और योगी आदित्यनाथ के बीच अंदरूनी कलह देखी जा रही है। ऐसे में उत्तर प्रदेश राज्य में विधानसभा चुनाव दिलचस्प हो सकते हैं। उत्तर प्रदेश राज्य बीजेपी के लिए कई मायनों में महत्वपूर्ण है।

इनके अलावा कुछ राज्य ऐसे हैं जहां कथित तौर पर बीजेपी को टक्कर देने के लिए ममता बनर्जी मैदान में आ गई हैं। इनके अलावा आम आदमी पार्टी के अरविंद केजरीवाल भी चुनव वाले राज्यों में सभाएं कर रहे हैं।


अगले साल 2022 में होने वाले सात राज्यों के दिलचस्प चुनाव के बारे में हम इस रिपोर्ट में बात करेंगे।

उत्तर प्रदेश में कब है विधानसभा चुनाव ? 

 सिर्फ पंजाब को छोड़ दें तो उत्तर प्रदेश उन चुनावी राज्यों में से एक हैं, जहां केंद्र की भाजपा सत्ता में है। साथ ही यह वह राज्य है जिस पर राजनीतिक पार्टियों और देश की नज़र टिकी है। विशेषज्ञ तो ऐसा भी मानते हैं कि उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव के नतीजे साल 2024 के लोकसभा चुनाव के लिए बीजेपी और कांग्रेस की भूमिका तैयार करेंगे। देश के इस राज्य में सबसे अधिक विधानसभा सीटें हैं। यहां कुल 403 विधानसभा सीटें हैं जिनमें से 202 सीटों पर कब्ज़े के साथ भाजपा सत्तारूढ़ है। यह भी कहा जा रहा है कोरोना की हेंडलिंग और किसानों का विरोध जैसे कुछ मुद्दे बीजेपी के लिए चुनौतीपूर्ण साबित होंगे। यूपी में 2022 के शुरूआती महीनों में चुनाव होंगे।

गुजरात में कब है विधानसभा चुनाव ?

भाजपा का गढ़ माने जाने वाले गुजरात में भी अगले साल अंत में चुनाव होंने हैं। राज्य में बीते विधानसभा चुनाव की बात करें तो कांग्रेस ने 182 विधानसभा सीटों वाली असेंबली में अपनी सीटों की संख्या बढ़ाकर 57 से 17 कर ली है जबकि 2012 के मुकाबले 2017 में बीजेपी की सीट 115 से कम हो कर 99 रह गई। इस राज्य में आप दोनों पार्टियों के लिए चुनौती बन कर उभरी है। फिलहाल 92 सीटों के साथ गुजरात में बीजेपी का ही कब्ज़ा है।      

पंजाब में कब है विधानसभा चुनाव ? 

साल की शुरूआत से ही पंजाब में कांग्रेस के नेतृत्व वाली सरकार में अनबन की खबरें आने लगी थी। इन राज्य में 2022 की पहली तिमाही में चुनाव होने की संभावना है। इससे पहले ही पंजाब कांग्रेस में कुछ बड़ी घटनाएं घटी है। राज्य में 117 विधानसभा सीटें हैं जिनमें से 59 सीटों पर कांग्रेस का कब्ज़ा है। काफी वाद विवाद होने के बाद कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धु को प्रदेश पार्टी अध्यक्ष बनाया गया था लेकिन इसके कुछ समय बाद ही मौजूदा सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इस्तीफा दे दिया। फिलहाल पंजाब की कमान चरणजीत सिंह चन्नी के हाथ में है।

उत्तराखंड में कब है विधानसभा चुनाव ? 

बीजेपी शासित उत्तराखंड में 70 विधानसभा सीटों पर मेज्योरिटी 36 सीटों के साथ बीजेपी सत्ता में है। भाजपा का बहुत कम समय में उत्तराखंड के दो मुख्यमंत्रियों को बदलना मीडिया की सुर्खिया बना था। मीडिया रिपोर्ट्स में ऐसा दावा किया गया था कि तत्तकाल सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत को इसलिए अपना पद छोड़ना पड़ा क्योंकि उन्होंने कोरोना के बीच कुंभ मेले का आयोजन न करने की सलाह दी थी। मौजूदा समय में पुष्कर सिंह धामी उत्तराखंड के सीएम हैं। वहां 2022 की शुरूआत में चुनाव होने हैं। 

हिमाचल प्रदेश में कब है विधानसभा चुनाव ? 

हिमाचल प्रदेश में राजनीतिक हेरफेर कम ही देखने को मिले हैं। हिमाचल प्रदेश में कुल 68 विधानसभा सीटें है जिनमें से 35 पर बीजेपी के विधायक हैं और यह राज्य की सबसे बड़ी और सत्तारूढ़ पार्टी है। इस राज्य की खासियत यह है कि यहां कोई पार्टी पांच साल से अधिक समय नहीं टिक पाती जो कि रूलिंग बीजेपी के लिए चुनौती होगा। राज्य में 2022 के अंत में चुनाव के अनुमान है। 

मणिपुर में कब है विधानसभा चुनाव ? 

उत्तर पूर्वी राज्य मणिपुर में भी अगले साल विधानसभा चुनाव हैं। 2017 में कुल 60 विधानसभा सीटों में से 28 पर जीत दर्ज कर कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी बन कर उभरी थी लेकिन वह राज्य में मेज्योरिटी नहीं बना पाई। आखिरी चुनावों में भाजपा जिसने की 21 सीट जीती थी, उसने स्थानीय NPF, NPP और LJP के साथ मिल कर सरकार बनाई और अब भी सत्ता में है हालांकि तृणमूल कांग्रेस अब इस राज्य पर पकड़ बना रही है।  

गोआ कब है विधानसभा चुनाव ?

देश के कम जनसंख्या और 40 विधानसभा सीटों वाले गोआ में भी अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं। इससे पहले दिल्ली में सत्तारूढ़ आप और बंगाल की सत्ताधारी TMC मौजूदा रूलिंग पार्टी बीजेपी का किला भेदने की कोशिश कर रही हैं। कांग्रेस इस राज्य में भी खोई हुई साख वापस पाना चाहती है वहीं NCP और शिवसेना जैसी पार्टियां भी रेस में हैं। 

ताज़ा वीडियो