पुलिस कस्टडी में होने वाली मौतें 16 फीसदी बढ़ी, उत्तर प्रदेश नंबर 1 पर

by M. Nuruddin 1 year ago Views 2129

16% increase in deaths in Judicial custody. UP tak
महामारी के दौरान ज्यूडिशियल कस्टडी में होने वाली मौतों में 16 फीसदी की बढ़ोत्तरी देखी गई है। आंकड़ों के मुताबिक़ साल 2020-21 में महामारी के दौरान ज्यूडिशियल कस्टडी में 1840 मौतें दर्ज की गई जबकि 2019-20 के दौरान ज्यूडिशियल कस्टडी में होने वाली मौतें 1584 थी।

यह जानकारी 27 जुलाई मंगलवार को गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने लोकसभा में दी है। उन्होंने तीन सालों के आंकड़े जारी किए हैं।


आंकड़ों के मुताबिक़ सबसे ज़्यादा मौतें उत्तर प्रदेश में दर्ज की गई है। बताया गया है कि साल 2020-21 के दौरान उत्तर प्रदेश में ऐसी 443 मौतें दर्ज की गई है। इनके अलावा अगर टॉप अन्य चार राज्यों के आंकड़े देखें तो पश्चिम बंगाल दूसरे स्थान पर है जहां ज्यूडिशियल कस्टडी में 177 मौतें दर्ज की गई।

जबकि बिहार में ज्यूडिशियल कस्टडी में 156, मध्य प्रदेश में 155 और महाराष्ट्र में 130 मौतें दर्ज की गई है।

इनके अलावा अगर पुलिस कस्टडी में हुई मौतों के आंकड़े देखें तो इनमें सबसे आगे ‘मॉडल राज्य गुजरात’ है जहां पुलिस की कस्टडी में 17 मौतें दर्ज की गई। इनके अलावा महाराष्ट्र में 13, उत्तर प्रदेश में आठ, पश्चिम बंगाल में आठ, मध्य प्रदेश में आठ और बिहार में पुलिस कस्टडी के दौरान तीन मौतें दर्ज की गई।

अगर पिछले तीन सालों के आंकड़े देखें तो पता चलता है कि साल 2020-21 के दौरान देशभर में पुलिस कस्टडी में 100, 2019-20 के दौरान 112 और साल 2018-19 के दौरान 136 मौतें दर्ज की गई थी। यानि पुलिस कस्टडी में होने वाली मौतों में कमी हो रही है।

ताज़ा वीडियो