Soft Power में भारत फिसला, चीन चढ़ा; दुनिया का सर्वश्रेष्ठ देश जर्मनी

by GoNews Desk 2 years ago Views 2372

India slips in soft power, China rises; Germany be
जर्मनी एक बार फिर दुनिया का सबसे सर्वश्रेष्ठ देश बना है। इंटरनेशनल सॉफ्ट पॉवर सर्वे में पांचवी बार जर्मनी को यह रैंकिंग मिली है। इसके बाद दूसरे नंबर पर कनाडा और तीसरे स्थान पर जापान है। हालांकि अमेरिका ने अपनी रैंकिंग में सुधार किए हैं और यह आठवें पायदान पर आ गया है।

डॉनल्ड ट्रंप के राष्ट्रपति रहते अमेरिका की रैंकिंग ख़राब हुई थी। ट्रंप के ख़राब शासन, पर्यटन और ग़लत नीतियों की वजह से अमेरिका की रैंकिंग बिगड़ी थी। लेकिन, जो बाइडेन के शासनकाल में एक बार फिर से अमेरिका की प्रतिष्ठा में सुधार हो रहा है।


ख़ास बात यह है कि ब्रिटेन का स्कोर पिछले साल के मुक़ाबले 68.1 फीसदी से बढ़कर इस साल 70 फीसदी पर पहुंच गया है। लेकिन जर्मनी से महज 1.1 अंक कम मिलने की वजह से ब्रिटेन दूसरे स्थान से गिरकर पांचवें स्थान पर आ गया जो कनाडा, जापान और इटली से नीचे है।

ब्रिटेन की रैंकिंग में आंशिक रूप से विदेशियों का स्वागत करने और पर्यावरण की रक्षा के लिए अपनी वैश्विक प्रतिष्ठा में एक छोटी सी गिरावट की वजह से ख़राब हुई है। हालांकि ब्रिटेन को पांचवीं रैंकिंग भी उसकी साइंस, टेक्नोलॉजी, खेल, संस्कृति और शैक्षिक योग्यता की वजह से मिली है।

भारत 40वें स्थान पर !

जबकि भारत की अगर बात करें तो नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत छह पायदान नीचे फिसल गया है और अब भारत रैंकिंग में 40वें पायदान पर है।

इपसोस संस्‍था साल 2008 के बाद से हर साल, एक ब्रिटिश राजनीतिक वैज्ञानिक साइमन एनहोल्ट और पोलस्टर इप्सोस देशों के "राष्ट्र ब्रांडों" का आकलन करता है, ने कहा कि विभिन्‍न देशों की रैंकिंग में गिरावट सुशासन, पर्यटन, इमीग्रेशन और निवेश में आई कमी की वजह से है।

हालांकि चीन की रैंकिंग भारत से बेहतर है और सर्वेश्रेष्ठ देशों की लिस्ट में 31वें पायदान पर है। यह बता दें की चीन ने अपनी रैंकिंग में चार अंकों का सुधार किया है, चीन पिछले साल इस लिस्ट में 35वें पायदान पर रहा था।

60 देशों की रैंकिंग !

हर साल नेशन ब्रांड्स इंडेक्स देश के शासन, मित्रता, संस्कृति और जीवन की गुणवत्ता सहित छह अलग-अलग पैमानों पर 60 देशों की रैंकिंग जारी करता है। बेहतरीन उत्पाद और ग़रीबी से लड़ने के सकारात्मक कदमों की वजह से जर्मनी के लोगों की प्रतिष्ठा में इज़ाफा हुआ है और इस वजह से उसकी रैंकिंग भी सुधरी।

इनके अलावा इस साल टोक्यो ओलंपिक में जापान 9वें स्थान पर रहा था जो एक शानदार प्रदर्शन है और इसके लिए जापान को ज़्यादा अंक भी मिले हैं। हालांकि कनाडा 2020 में तीसरे स्थान पर रहा था जिसकी रैंकिंग और बेहतर हुई है और यह दूसरे स्थान पर पहुंच गया।

टॉप 10 देश

इंटरनेशनल सॉफ्ट पॉवर के सर्वे टॉप दस देशों की बात करें तो जर्मनी पहले नंबर पर तो कनाडा दूसरे स्थान पर है, जबकि जापान तीसरे नंबर पर तो इटली चौथे और यूनाइटेड किंगडम पांचवे स्थान पर है, जबकि फ्रांस छठवें, स्विटडजरलैंड सातवें, अमेरिका आठवें, स्वीडन 9वें, ऑस्ट्रेलिया 10वें स्थान पर है। इस लिस्ट में रूस को 27वीं, ब्राजील को 28वीं, ताइवान को 33वीं, तुर्की को 38वीं, इंडोनेशिया को 43वीं रैंकिंग मिली है।

जबकि इज़रायल इस लिस्ट में 47वें स्थान पर है और फिलिस्तीन 60वें स्थान पर है। 60 देशों की इस रैंकिंग में पाकिस्तान को जगह नहीं मिली है।

ताज़ा वीडियो