ads

कोरोना काल के बीच संयुक्त राष्ट्र की चेतावनी - 2021 में तेज़ी से फैल सकती है भुखमरी

by Ankush Choubey 1 week ago Views 3096

UN warning amid Corona era - starvation may spread
दुनिया के अधिकांश देशों में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर आ चुकी हैं,  दुनियाभर में अब तक 5 करोड़ 79 लाख से ज्यादा लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके है जबकि भारत में यह आंकड़ा 90 लाख के पार हो गया है।  कोरोना महामारी के चलते विकासशील देशों से लेकर विकसित देशों तक सब लॉकडाउन में गए और इसके चलते आर्थिक गतिविधियां पूरी तरह से ठप हो गई। 

इस बीच  संयुक्त राष्ट ने कहा है कि कोरोना वायरस के कारण 2021 में तेज़ी से भुखमरी फैल सकती है। संयुक्त राष्ट्र संघ की चेतावनी देते हुए कहा है,  अगर समय रहते ज़रूरी क़दम न उठाये गए तो विश्वभर में इसके परिणाम भयानक होंगे ।

Also Read: लॉकडाउन से सिकुड़ा टेलीकॉम सेक्टर, शहरी टेलिडेन्सिटी में भारी गिरावट दर्ज़

संयुक्त राष्ट्र के निकाय विश्व खाद्य कार्यक्रम के कार्यकारी निदेशक डेविड बीस्ले ने कहा,  है कि कोरोना संक्रमण के चलते दुनिया भुखमरी की महामारी की कगार पर खड़ी है। हालाँकि, डेविड बीस्ले ने यह भी कहा कि कुछ देशों ने राहत पैकेज देकर इस महामारी को साधने में सफलता पाई है, लेकिन 2021 में यह संकट बहुत तेजी से बढ़ेगा।

इससे पहले भी कई बार कोरोना महामारी के शुरुआत में ही इस बात पर ज़ोर देते हुए आगाह किया था कि कोरोना के साथ-साथ भुखमरी भी एक महामारी बनने जा रही है। इसे रोकने के लिए जल्दी प्रभावी कदम उठाने होंगे।

कोरोना महामारी ने देशों की अर्थव्यवस्थाएं तोड़ कर रख दी हैं। इर प्रकोप से कोषों में जमा रकम खप गई। जिसके कारण अर्थव्यवस्थाओं में भी गिरावट देखने को मिली है। लोगों की नौकरी गई है और छोटे-मोटे काम करने वाले लोगों का धंधा चौपट हो गया। कुछ देशों में फिर से लॉकडाउन लगा है या भविष्य में लगने के आसार हैं।

इससे साफ है, लोगों के पास में काम नहीं होगा तो उनको खासी परेशानी झेलनी पड़ेगी। देश की राजधानी दिल्ली समेत कई राज्यों में अब कोरोना की तीसरी लहर  शुरू हो चुकी है। इसको लेकर मध्य प्रदेश, गुजरात और महाराष्ट्र सरकारों ने कई जिलों में रात्रिकालीन कर्फ्यू लगा दिया है।