ads

अमेरिका: जो बाइडन ने 46वें राष्ट्रपति के तौर पर शपथ ली, बोले- 'लोकतंत्र बहाल हुआ'

by GoNews Desk 3 months ago Views 18299

‘अमेरिका के लिए एक सफल कार्यकाल के लिए बधाई। हम आम चुनौतियों का सामना करने और वैश्विक शांति और सुरक्षा के लिए साथ मिलकर काम करेंगे।’

जोसेफ रॉबिनेट बाइडन जूनियर ने अमेरिका के 46वें राष्ट्रपति के तौर पर शपथ ले ली है। उनको सुप्रीम कोर्ट के जज जस्टिस जॉन रॉबर्ट्स ने पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। वहीं कमला हैरिस ने 46वें उप-राष्ट्रपति के तौर पर शपथ ली। उन्हें सुप्रीम कोर्ट की जज जस्टिस सोनिया सोटोमायोर ने शपथ दिलाई। शपथग्रहण के बाद बाइडन ने अपने पहले भाषण में कहा कि ‘लोकतंत्र बहाल हुआ।’

जो बाइडन ने कहा है कि यह अमेरिका का दिन है, यह लोकतंत्र का दिन है, यह इतिहास और उम्मीदों का दिन है। उन्होंने कहा, ‘अमेरिका की कई बार परीक्षाएं हुई हैं और वह चुनौतियों से उभरा है। आज हम एक उम्मीदवार की जीत का जश्न नहीं मना रहे बल्कि लोकतंत्र के लिए जश्न मना रहे हैं।’ 


राष्ट्रपति पद की शपथ लेने के बाद बाइडन अपने परिवार के साथ पैदल ही व्हाइट हाइस पहुंचे। पारंपरिक तौर पर पूर्व राष्ट्रपति, नए राष्ट्रपति को आमंत्रित करता है ताकि प्रशासन की ज़रूरी बातों पर चर्चा की जा सके। लेकिन डॉनल्ड ट्रंप ने अपनी हार स्वीकार नहीं की और ना ही वो शपथ ग्रहण में शामिल हुए। डॉनल्ड ट्रंप शपथ समारोह से पहले ही व्हाइट हाउस छोड़कर चले गए थे।

शपथ के बाद जो बाइडन ने डॉनल्ड ट्रंप को लेकर अपने भाषण में कहा, ‘एक अमेरिकी के रूप में हमारे साझा उद्देश्य हैं।  हम 'अवसर, सुरक्षा, स्वतंत्रता, गरिमा, सम्मान और.. हां.. सच' चाहते हैं। बाइडन ने पूर्व राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप पर हमला बोलते हुए कहा, ‘बीते सप्ताह की कुछ घटनाओं ने सिखाया है कि 'यहां सच भी है और झूठ भी। शक्ति और लाभ के लिए झूठ बोले गए।’

उन्होंने कहा, 'अमेरिका के पूरे इतिहास में हर बार विभाजनकारी नीतियों पर एकता की जीत हुई है। मैं जानता हूं कि देश को बांटने वाली ताकतें गंभीर और वास्तविक हैं लेकिन मैं यह भी जानता हूं कि वे नई नहीं हैं। अमेरिका का आदर्श और मूल्य यही है कि हम सब बराबर हैं। नस्लवाद, क्षेत्रवाद, उग्रवाद, दहशत, भय ने कई बार हमें अलग-थलग करने का प्रयास किया है, लेकिन हर बार ऐसी ताकतें परास्त हुईं।’

बाइडन के राष्ट्रपति बनने पर दुनियाभर के नेताओं ने उन्हें बधाई दी। पीएम मोदी ने कहा कि बाइडन के साथ भारत, अमेरिका के साथ रणनीतिक साझेदारी को मज़बूत करने के लिए साथ काम करने का इंतज़ार कर रहे हैं। उन्होंने अपने अगले ट्वीट में कहा, ‘अमेरिका के लिए एक सफल कार्यकाल के लिए बधाई। हम आम चुनौतियों का सामना करने और वैश्विक शांति और सुरक्षा के लिए साथ मिलकर काम करेंगे।’ उन्होंने उप-राष्ट्रपति कमला हैरिस को भी बधाई दी।

बाइडन के शपथ के बाद चीन ने भी उन्हें बधाई दी है। अमेरिका में चीनी राजदूत Cui Tiankai ने बयान जारी कर कहा, ‘राष्ट्रपति बाइडन को बधाई। चीन-अमेरिका के सतत विकास को बढ़ावा देने के लिए चीन नए प्रशासन के साथ काम करेगा। हम सार्वजनिक स्वास्थ्य, जलवायु परिवर्तन और विकास में वैश्विक चुनौतियों का संबंध और संयुक्त रूप से सामना करेंगे।’

ताज़ा वीडियो