ओडिशा में ऑमिक्रॉन की पुष्टि; दिल्ली में 34 लोग नए वेरिएंट से संक्रमित, 3 की ट्रैवल हिस्ट्री नहीं

by GoNews Desk 2 years ago Views 44095

omicron variant

ओडिशा में ऑमिक्रॉन के पहले दो मामले सामने आए हैं। नाईजीरिया और क़तर से आए दो लोगों को नए वेरिएंट से संक्रमित पाया गया। कटक के कोविड19 नोडल अधिकारी के मुताबिक़ नाईजीरिया से आया यात्री पूर्ण टीकाकृत है और उसके संपर्क में आए सभी लोगों को कोरोना नेगेटिव पाया गया है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के मंगलवार सुबह जारी आंकड़ों के अनुसार भारत में अब ऑमिक्रॉन के 200 कंफर्मड केस हैं जिसमें से 77 संक्रमितों को अस्पताल से डिस्चार्ज किया जा चुका है। सबसे ज़्यादा मामले महाराष्ट्र और दिल्ली में है। महाराष्ट्र में कुल 54 संक्रमितों में से 28 लोग ठीक हो चुके हैं, वहीं दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि यहां नए वेरिएंट के 34 नए मामले सामने आए हैं।

यह सभी LNJP अस्पताल में भर्ती लोगों में पाए गए। अब यहां कुल संक्रमितों की संख्या 54 है जिसमें से 17 लोगों को डिस्चार्ज किया जा चुका है। उन्होंने यह भी कहा कि तीन लोग जिन्हें ऑमिक्रॉन वेरिएंट से संक्रमित पाया गया। इनकी कोई ट्रैवल हिस्ट्री नहीं है और इन्होंने विदेश यात्रा नहीं की है।

देश में कोवैक्सीन का उत्पादन करने वाली भारत बायोटेक ने ड्रग नियमाक को एक अर्जी में अपनी नेजल वैक्सीन के बूस्टर डोज़ के लिए ट्रायल की मांग की है।

उधर केंद्रिय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया का कहना है कि देश में अगले दो महीनों के अंदर हर महीने 45 करोड़ कोविड टीकों का उत्पादन होंने लगेगा। यह क्षमता अभी 31 करोड़ है। उन्होंने यह भी कहा कि अब तक 88 फ़ीसदी आबादी को कम से कम एक खुराक जबकि 58 प्रतिशत को दोनों वैक्सीन की दोनों खुराक दी जा चुकी है।

 भारत में अभी नए वेरिएंट का हमला तेज़ नहीं है हालांकि दूसरे देशों खासकर यूरोप में हालत गंभीर बन रहे हैं। यूके में नए वेरिएंट से अब तक 12 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि अमेरिका में ऑमिक्रॉन ‘डोमिनेंट वेरिएंट’ बन गया है। वहां जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजे गए 73 प्रतिशत सैंपल ऑमिक्रॉन से संक्रमित है जबकि न्यूयॉर्क और वॉशिंगटन में यह फ़ीसद 100 का है जबकि 27 प्रतिशत सैंपल डेल्टा वेरिएंट पॉजिटिव पाए गए हैं।

इससे कहा जा सकता है कि ऑमिक्रॉन नेअब डेल्टा वेरिएंट को पीछे छोड़ता दिख रहा है। विश्व स्वास्थ्य संगठन प्रमुख टेड्रोस एडनोम ने भी कहा है कि संस्था के पास ऐसे सबूत हैं जो इसकी पुष्टि करते हैं कि ऑमिक्रॉन डेल्टा वेरिएंट के मुक़ाबले ज़्यादा तेज़ी से फैल रहा है। 

ताज़ा वीडियो