कोरोना वायरस: 26 तरह की दवा सामग्री के निर्यात पर रोक, मास्क और हैंड सेनेटाइजर की मांग बढ़ी

by Rumana Alvi 4 years ago Views 1860

Corona virus: ban on export of 26 types of drug pa
कोरोना वायरस के बढ़ते कहर के बीच बाजारों में जहां मास्क और हेंड सेनेटाइजर की मांग बढ़ गई है। आलम ये है कि अब दवा व्यापारी इसकी मांग को पूरा नहीं कर पा रहे हैं।

देशवासियों को कोरोना वायरस से बचाने के सरकार ने 26 तरह की दवा सामाग्री के साथ ही पैरासेटामोल, विटामिन-बी और बी-12 जैसी कुछ दवाओं के निर्यात पर रोक लगा दी हैं। इससे पहले इस तरह की दवाइयों पर किसी तरह की रोक नहीं थी। सरकार के इस कदम के बाद वाणिज्य मंत्रालय के तहत आने वाले विदेश व्यापार महानिदेशालय से लाइसेंस लेने की जरुरत होगी ।


जहारि है भारत में कोरोना वायरस के करीब 20 संदिग्ध मरीज मिलने के बाद ही देश की राजधानी दिल्ली, नोएडा समेत आस-पास के इलाकों में लोगों को भी कोरोना वायरस का डर सता रहा है। जिसके चलते 95 मास्क और सेनेटाइजर की मांग में तेजी से इजाफा हो रहा है।

अब आलम ये हो गया है कि दवा व्यापारी बाजार में इसकी कमी को पूरा नहीं कर पा रहे हैं। दवा व्यापारियों का कहना है कि मास्क और सेनेटाइजर की डिमांड बीते कुछ दिनों से बहुत बढ़ गई हैं और अब इसकी कमी हो रही है। स्टॉक में एक दो दिन का ही माल बाकी रह गया है। वहीं मास्क खरीदने आये लोगों का कहना है कि काम के लिए तो घर से निकला ही होगा। और हमें हमारी सुरक्षा खुद ही करनी होगी। मार्केट में काफी सारी दुकानें देखने के बाद मास्क और सेनेटाइजर मिला। दवा व्यापारियों का इसका स्टॉक रखना चाहिए ताकि किसी को कोई दिक्कत ना हो और कोरोनावायरस से बचाव के लिए आसानी से दोनों चीजें मिल जाएं।

जाहिर है सरकार को चाहिए कि वो आगे आकर इस मामले में दखल दें ताकि अपनी मांग और आपूर्ति स्थिर हो सके। साथ ही जनता को भी एहतियात बरतना चाहिए कि वो जमा खोरी ना करें।

ताज़ा वीडियो