तीन सालों से लगातार गिर रहा औद्योगिक उत्पादन, कोरोना कैसे ज़िम्मेदार ?

by M. Nuruddin 1 year ago Views 1517

How is the corona responsible for industrial produ
देश की अर्थव्यवस्था ऐतिहासिक मंदी की चपेट में है। जीडीपी 24 फीसदी सिकुड़ चुकी है जो इस बात का सबूत है कि देश में उद्योग-धंधे चौपट हो गए हैं। औद्योगिक उत्पादन में लगातार गिरावट आ रही है। जुलाई महीने में औद्योगिक उत्पादन -10.4 फीसदी दर्ज़ हुआ था। सरकार हर महीने और सालाना औद्योगिक उत्पादन के आंकड़े जारी करती है। हाल ही में जारी आंकड़े बताते हैं कि देश की अर्थव्यवस्था कोविड और लॉकडाउन की वजह से नहीं बल्कि पहले से ही जबरदस्त मंदी की गिरफ्त में थी।

वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने लोकसभा में एक सवाल के जवाब में बताया कि देश की औद्योगिक उत्पादन में पिछले तीन सालों से लगातार गिरवाट दर्ज हो रही है। उन्होंने कहा वित्त साल 2017-18 में देश का औद्योगिक उत्पादन 4.4 फीसदी था जोकि अगले ही साल गिरकर 3.8 फीसदी पर आ गया। फिर यही दर 2019-20 में घटकर -0.8 फीसदी रह गई।


ध्यान रहे, ये वो तीन साल है जब देश में ना महामारी थी और ना ही लॉकडाउन। आसान भाषा में कहें तो देश में कोरोना के पहले मरीज़ की पहचान 30 जनवरी 2020 को हुई थी लेकिन देश का औद्योगिक उत्पादन उस समय पहले से ही नेगेटिव था।

लॉकडाउन और महामारी तो अर्थव्यवस्था के लिए आखिरी कील साबित हुए क्योंकि औद्योगिक उत्पादन अप्रैल-जुलाई महीने की अवधि में -29.2 फीसदी पर जा पहुंची। इससे मालूम पड़ता है अर्थव्यवस्था पहले से ही खस्ता थी लेकिन 4 घंटे में घोषित लॉकडाउन ने इसकी कमर तोड़कर रख दी।

अर्थव्यवस्था के लिए साल 2019 किसी बुरे सपने जैसा रहा जब आर्थिक ग्रोथ में भारी गिरावट के साथ-साथ बेरोजगारी चरम पर पहुंच गई थी। तब चौतरफ़ा हमलों का सामना कर रही केन्द्र सरकार ने इसको ‘शॉर्ट-टर्म मंदी’ बताया था लेकिन अब नए आंकड़े से साबित है कि केन्द्र सरकार उत्पादन और आर्थिक ग्रोथ में गिरावट का ठीकरा कोरोना महामारी पर नहीं फोड़ सकती।

ताज़ा वीडियो