सरकार GST कलेक्शन के अपने सालाना लक्ष्य से 3 लाख करोड़ पीछे

by Rahul Gautam 5 months ago Views 1375
Government loses 3 lakh crore from its target of G
वित्त मंत्रालय के ताज़ा आंकड़ों के मुताबिक दिसंबर महीने में जीएसटी का कलेक्शन 1 लाख करोड़ से ज्यादा का रहा है । इस वित्त वर्ष के बीते 9 महीनो में ये पांचवी बार है जब उगाई 1 लाख करोड़ से ज्यादा की रही है। लेकिन, आंकड़े बताते है सरकार साल 2019-20 के जीएसटी कलेक्श के 6.6 लाख करोड़ के लक्ष्य से काफी दूर है।       

देश की अर्थव्यवस्था को लेकर बढ़ती चिंताओं के बीच वित्त मंत्रालय के ताज़ा आंकड़ों बताते है शायद सरकार इस साल अपने जीएसटी की उगाई के लक्ष्य से पीछे रह जाये। वित्त मंत्रालय के ताज़ा आंकड़ों के मुताबिक दिसंबर महीने में ग्रॉस जीएसटी का कलेक्शन 103184 करोड़ रहा है जबकि 2018 के दिसंबर में यही आकड़ा 94726 करोड़ था। इसमें सेंट्रल जीएसटी 41,776 रहा यानी इतना पैसा केंद्र के खाते में गया। आपको बता दे अपने सालाना बजट को पूरा करने के लिए हर महीने जीएसटी का कलेक्शन 1 लाख करोड़ से ज्यादा का होना बेहद ज़रूरी है। इस वित्त वर्ष में अप्रैल, मई, जुलाई और नवंबर के अलावा दिसंबर में ये आंकड़ा 1 लाख करोड़ के पार रहा है।

Also Read: सिडनी टेस्ट, पहला दिन- ऑस्ट्रेलिया बनाम न्यूजीलैंड (रिपोर्ट)

आपको बता दे सरकार ने पिछली फरवरी में जीएसटी का सालाना लक्ष्य 7.6 लाख करोड़ था जिसको बाद में जुलाई में घटाकर 6.6 लाख करोड़ कर दिया गया। दिसम्बर के आकड़े को भी अगर जोड़ा जाये तो अबतक पिछले 9 महीने में केवल 3.68 लाख करोड़ का ही कलेक्शन हो पाया है जोकि आधे से थोड़ा ज्यादा है। सीधा मतलब है अपना लक्ष्य पूरा करने के लिए अगले 3 महीने में लगभग 3 लाख करोड़ की केंद्र को उगाई करनी पड़ेगी, जिसकी संभावना बेहद कम है।

हैरानी की बात ये है की वित्त मंत्रालय के मुताबिक दिसंबर महीने में जीएसटी का कलेक्शन एक राज्य, झारखण्ड में घट गया है । दिसंबर महीने में झारखण्ड का कलेक्शन 1943 करोड़ रहा, जोकि पिछले साल इसी महीने से 3 फीसदी कम है ।