कोरोना वायरस: चीन संभला, भारत-अमेरिका के स्टॉक बाज़ार में उथल-पुथल बरकरार

by Rahul Gautam 3 months ago Views 8166
China recovers after Corona hit, India-US stock ma
पूरी दुनिया का आर्थिक चक्का कोरोना वायरस के चलते धीमा हो चुका है। ज़ाहिर है कैपिटल मार्केट्स में उथल पुथल मची हुई है और अब तक करोड़ों रुपए का निवेश बाजार से उड़ चूका है। लेकिन जब दुनिया के छोटे बड़े सभी कैपिटल मार्केट्स काफी सिकुड़ चुके हैं, वहीं चीन के स्टॉक बाजार तेज़ी से रिकवर कर फिर गुलज़ार हो रहे हैं।

दुनिया के स्टॉक बाजार में कोरोना वायरस के चलते कैपिटल मार्केट्स में उथल पुथल है और अब तक निवेशकों के लाखों करोड़ रुपए स्वाहा हो चुके हैं। चाहे भारत हो, अमेरिका हो या फिर कोई और बड़ा मुल्क, सभी के स्टॉक बाजार धराशायी हो गए हैं। हालांकि यह बीमारी चीन से शुरू हुई और वहां का स्टॉक बाज़ार लड़खड़ाने के बाद दोबारा पटरी पर आ गया है. 

Also Read: देखें, ग्वालियर में मां के पास जाने के लिए दिल्ली से पैदल निकले दो दिहाड़ी मज़दूर

शंघाई स्टॉक बाजार 12 दिसंबर को 2,915 अंकों पर था. इसके बाद कोरोनावायरस की महामारी से पूरे देश में तूफान खड़ा हो गया लेकिन 24 मार्च को यह इंडेक्स 2,722 पर बंद हुआ. यानी तक़रीबन 200 प्वाइंट का नुकसान हुआ.

भारत में कोरोना का पहला मामला जनवरी के आख़िर में सामने आया था, तब सेंसेक्स 40,723 अंकों की ऊंचाई छू रहा था लेकिन 24 मार्च को बाज़ार 26,674 पर पहुंच गया. यानी सेंसेक्स तक़रीबन 14 हज़ार प्वाइंट सिकुड़ गया है. 22 मार्च को सेंसेक्स में ऐतिहासिक गिरावट हुई और उस दिन बाजार 3,934 गिरा और निवेशकों के लाखों करोड़ रुपए स्वाहा हो गए. 

इसी तरह अमेरिका में न्यू यॉर्क का डाउ जोंस 3 फरवरी को 29,551 के आंकड़े पर था लेकिन 45 दिनों के बाद यानि 24 मार्च को डाउ जोंस लुढ़ककर 20,704 अंक पर पहुंच गया. 

वीडियो देखिए

चीन में अब तक 3,200 से ज़्यादा लोगों की मौत हो चुकी है और उसे अरबों डॉलर के नुकसान की आशंका है लेकिन चीनी सरकार की सख्ती से अब मामले कम होने लगे हैं. विशेषज्ञों के मुताबिक सख्त फैसले लेकर चीन ने लगभग इस बीमारी पर काबू पा लिया है और स्टॉक बाजार में भी रौनक लौट आई है. 24 मार्च को शंघाई स्टॉक बाजार 2,722 अंक के साथ बंद हुआ।