1 अक्टूबर 2020 से बदल जाएंगे 10 नियम, ड्राइविंग के लिए अब लाइसेंस रखने की ज़रूरत नहीं

by Siddharth Chaturvedi 1 year ago Views 2621

10 rules to be changed from 1 October 2020, no lon
देश में 1 अक्टूबर 2020 कई ज़रूरी नियम बदल जाएंगे. इनमें मोटर व्हीकल रूल्स 1989 के अलावा उज्जवला योजना, स्वास्थ्य बीमा, क्रेडिट और डेबिट कार्ड से जुड़े कई अहम नियम शामिल हैं. आइए देखते हैं कि 1 अक्टूबर से क्या-क्या बदलाव होने जा रहे हैं.

1) ड्राइविंग के दौरान असली रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट और ड्राइविंग लाइसेंस की ज़रूरत नहीं


ड्राइविंग के दौरान अब रजिस्ट्रेशन और ड्राइविंग लाइसेंस जैसे कागज़ात की हार्ड कॉपी रखने की ज़रूरत नहीं है. अब कागज़ात की छायाप्रति लेकर भी गाड़ी चलाई जा सकती है. 1 अक्टूबर से ड्राइविंग लाइसेंस और ई चलान समेत सभी कागज़ात का रखरखाव एक पोर्टल के ज़रिए होगा. पोर्टल पर सही कागज़ात मिलने पर ड्राइविंग के दौरान असली कागज़ात की मांग नहीं की जाएगी.  सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने इसके लिए अधिसूचना भी जारी कर दी है.

2) ड्राइविंग के दौरान अब रूट देखने के लिए कर सकते हैं मोबाइल का इस्तेमाल

ड्राइविंग के दौरान मोबाइल पर बात करने पर एक से पांच हज़ार रूपए तक का जुर्माना लगाया जा सकता है लेकिन रास्ता देखने के लिए मोबाइल का इस्तेमाल अब किया जा सकेगा.

3) प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के तहत फ्री गैस कनेक्शन लेने की प्रक्रिया 30 सितंबर 2020 से ख़त्म

प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के तहत फ्री गैस कनेक्शन की सुविधा 30 सितंबर 2020 से ख़त्म हो रही है. कोरोना संक्रमण के चलते केंद्र सरकार ने इस योजना की मियाद सितंबर तक बढ़ा दी थी.

4) विदेश पैसे भेजने पर लगेगा 5% टैक्स

एक अक्टूबर से सात लाख या उससे ज़्यादा की रक़म विदेश भेजने पर 5 फ़ीसदी टैक्स कलेक्टेड एट सोर्स यानी टीसीएस का अतिरिक्त भुगतान करना होगा.

5) मिठाइयों की एक्सपायरी बताना ज़रूरी

खाद्य नियामक एफ.एस.एस.ए.आई ने बाज़ार में मिलने वाली खुली मिठाइयों को लेकर नियम में बदलाव किया है। अब 1 अक्टूबर से कारोबारियों को यह जानकारी ग्राहकों को देनी होगी कि उनकी मिठाई का इस्तेमाल कब तक किया जा सकता है.

6) स्वास्थ्य बीमा से जुड़े नियमों में बदलाव

1 अक्टूबर से स्वास्थ्य बीमा से जुड़े नियमों में भी बदलाव होंगे. इसके तहत अब बीमाधारक प्रीमियम का भुगतान किस्तों में कर सकेंगे. इसके साथ अब 17 स्थायी बीमारियां पॉलिसी में कवर होंगी.

7) टीवी ख़रीदना हुआ महंगा

केंद्र सरकार ने टीवी के विनिर्माण में उपयोग होने वाले ओपन सेल के आयात पर 5 फ़ीसदी सीमा शुल्क बहाल करने का फ़ैसला किया है जिसकी वजह से टीवी महंगी हो जाएगी.

8) सरसों के तेल में मिलावट पर रोक

सरकार ने सरसों के तेल में अन्य किसी किसी तेल की मिलावट पर रोक लगा दी है. अभी तक सरसों तेल में चावल की भूसी यानी राइस ब्रान तेल, पाम तेल या अन्य किसी खाद्य टल की मिलावट की जाती थी.

9) भारतीय रिज़र्व बैंक जारी करेगा क्रेडिट कार्ड और डेबिट कार्ड के लिए नए दिशा निर्देश

क्रेडिट और डेबिट कार्ड पर दी जाने वाली कुछ सेवाएं 1 अक्टूबर से बंद कर दी जाएँगी। ये सेवाएं अंतरराष्ट्रीय लेनदेन से जुड़ी हुई हैं. नए नियमों के तहत ग्राहकों को अंतरराष्ट्रीय, ऑनलाइन और कांटैक्टलेस कार्ड से लेनदेन के लिए प्राथमिकता बतानी होगी. इसका मतलब है कि ग्राहक को ज़रूरत के हिसाब से इस सेवा का लाभ मिलेगा और इसके लिए अर्ज़ी देनी होगी.

10) ई-कॉमर्स कंपनियों के ज़रिए कारोबार करने पर एक फीसदी टैक्स

ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म पर पंजीकरण के बाद सामानों की बिक्री होने पर विक्रेता को 1 फ़ीसदी टैक्स चुकाना होगा. नए नियम के तहत ई-कॉमर्स ऑपरेटर को यह अधिकार दिया गया है कि एक अक्टूबर 2020 से उसके प्लेटफ़ॉर्म के ज़रिए होने वाली ख़रीद-फ़रोख़्त पर एक फ़ीसदी टैक्स काट सकेगा.

ताज़ा वीडियो