ads

टीआरपी घोटाला मामले में 'मास्टरमाइंट' पार्थो दासगुप्ता को ज़मानत

Views 64

टीआरपी घोटाला मामले में 'मास्टरमाइंट' पार्थो दासगुप्ता को ज़मानत

बॉम्बे हाईकोर्ट ने टीआरपी घोटाले मामले में गिरफ्तार ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल (बार्क) के पूर्व सीईओ पार्थो दासगुप्ता को ज़मानत दे दी है। दासगुप्ता को यह ज़मानत दो लाख रूपये के निजी बॉन्ड पर दी गई है। दासगुप्ता ने इस साल जनवरी में हाईकोर्ट में जमानत याचिका की अर्जी दाखिल की थी। लेकिन, कोर्ट ने ज़मानत याचिका ख़ारिज कर दिया था और कहा था कि टीआरपी घोटाला मामले में वो मास्टरमाइंट की भूमिका में हैं।

बीते महीने पार्थो दासगुप्ता ने खुलासा किया था कि रिपब्लिक टीवी के एडिटर-इन-चीफ अर्नब गोस्वामी ने उन्हें टीआरपी में छेड़छाड़ के लिए 12 हज़ार डॉलर और 40 लाख रूपए दिए थे। दासगुप्ता को बीते साल दिसंबर में गिरफ्तार किया गया था। पैसे की लेनदेन की बात दासगुप्ता ने ख़ुद अपने लिखित बयान में क़बूल किया था। दासगुप्ता ने यह भा कहा था कि रेटिंग फिक्स करने के लिए उन्हें तीन साल में कुल 40 लाख रूपये मिले थे। 

मुंबई पुलिस ने मामले में 3,600 पन्ने का सप्लीमेंट्री चार्जशीट बीते 11 जनवरी को कोर्ट में फाइल किया था। इसमें बार्क के फॉरेंसिक रिपोर्ट को भी पेश किया गया था। इसके अलावा मुंबई पुलिस ने दासगुप्ता और अर्नब के बीच हुई लंबी बातचीत का व्हाट्सएप चैट, और 59 लोगों का बयान भी फाइल किया गया था जिसमें केबल ऑपरेटर्स और बार्क काउंसिल के पूर्व कर्मचारी शामिल हैं।

ताज़ा वीडियो