ads

पीएम मोदी के बयान पर ममता की चुनौती, बोली-गलत साबित हुए तो उठक-बैठक लगाएं पीएम

Views 1680

ममता बनर्जी ने अपने संबोधन में प्रधानमंत्री द्वारा चुनाव के दिन प्रचार किए जाने पर भी सवाल उठाया.

 पीएम मोदी के बयान पर ममता की चुनौती, बोली-गलत साबित हुए तो उठक-बैठक लगाएं पीएम

बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार को अपने ऊपर लगे 24 घंटों के प्रतिबंध के बाद पीएम मोदी पर एक रैली में हमला बोला. उन्होंने बारासात में जनता संबोधन के दौरान कहा कि प्रधानमंत्री लोगों को गुमराह कर रहे हैं. 

ममता ने उनके द्वारा मतुआ समुदाय के लिए कुछ नहीं किए जाने वाले पीएम मोदी के बयान को चुनौती दी और कहा, “मैं चुनौती स्वीकार करती हूं, अगर मैंने मतुआ समुदाय के लिए कुछ नहीं किया है तो मैं त्यागपत्र दे दूंगी अगर अगर आप कुछ भी किए बिना झूठ फैला रहे हैं तो आप कान पकड़ कर उठक-बैठक लगाएंगे.” 

ममता बनर्जी ने अपने संबोधन में प्रधानमंत्री द्वारा चुनाव के दिन प्रचार किए जाने पर भी सवाल उठाया. उन्होंने कहा, “चुनाव आयोग ने अभूतपूर्व तरीके से आठ चरणों में चुनाव कराने का कार्यक्रम बनाया है जिनमें से सिर्फ चार चरण खत्म हुए हैं और पांचवें चरण के चुनाव शनिवार को होंने हैं. मतदान के दिन पीएम मोदी के बंगाल आने पर चुनाव आयोग पाबंदी क्यों नहीं लगाता है. मैं मतदान के दिनों पर अपनी बैठक रद्द करने के लिए तैयार हूं.” सत्तारूढ़ टीएमसी  की काफी दिनों से मांग कर रही हैं कि प्रधानमंत्री को चुनाव वाले दिन प्रचार करने से बचना चाहिए. 

दूसरे चरण में मतदान के दौरान नंदीग्राम में जब मतदान हो रहा था तब पीएम ने राज्य में एक जगह रैली के दौरान कहा था कि ममता को अपने प्रतिद्वंदी बीजेपी के शुभेंदु अधिकारी के हाथों से हार का सामना करना पड़ेगा. इस पर तृणमूल कांग्रेस का दावा था कि पीएम मोदी का ये बयान आचार संहिता का उल्लंघन करता है. पार्टी का कहना था कि ये बयान उन स्थानों को प्रभावित कर सकता है कि जहां चुनाव हो रहे हैं.      

ताज़ा वीडियो