ads

बच्चों में संक्रमण के इलाज के लिए सरकार ने जारी की गाइडलाइन, रेमडेसिविर की नहीं ज़रूरत

Views 1194

दिशानिर्देशों में मरीज के फेंफड़ों में संक्रमण को देखने के लिए हाई रिजोल्यूशन सिटी स्कैन के तर्कसंगत उपयोग का सुझाव दिया गया है.

बच्चों में संक्रमण के इलाज के लिए सरकार ने जारी की गाइडलाइन, रेमडेसिविर की नहीं ज़रूरत

केंद्र सरकार ने बच्चों में संक्रमण के इलाज के लिए गाइडलाइन जारी की है. इन गाइडलाइन में बच्चों में स्टेरॉयड का इस्तेमाल करने पर रोक लगाई गई है. इसके अलावा बच्चों पर रेमडेसिविर न इस्तेमाल करने का सुझाव दिया गया है. केंद्र की जारी गाइडलाइन में सिटी स्कैन का तार्किक इस्तेमाल करने के लिए कहा गया है. 

स्वास्थ्य सेवा महानिदेशालय द्वारा जारी गाइडलाइन में कहा गया है कि बिना और हल्के लक्षण के इंफेक्शन में स्टेरॉयड का प्रयोग खतरनाक साबित हो सकता है. DGHS के निर्देशानुसार 'स्टेरॉयड का इस्तेमाल सिर्फ गंभीर लक्षणों और अस्पताल मे भर्ती किए गए रोगी पर ही किया जाए. नइ गाइडलाइन के तहत बच्चों पर रेमडेसिविर का प्रयोग न करने के सुझाव दिए गए हैं.

इसमें कहा गया है कि दवा को आपातकाल प्रयोग के लिए अनुमति मिली है और इसका बच्चों में उपचार के लिए प्रयोग रिकमेंडेड नहीं है. गाइडलाइन में कहा गया, "18 वर्ष से कम उम्र के बच्चों में रेमडेसिविर के संबंध में पर्याप्त सुरक्षा और प्रभावकारिता डेटा का अभाव है."

दिशानिर्देशों में मरीज के फेंफड़ों में संक्रमण को देखने के लिए हाई रिजोल्यूशन सिटी स्कैन के तर्कसंगत उपयोग का सुझाव दिया गया है. बच्चों में बिना लक्षण के संक्रमण के इलाज के लिए अलग दवा या उपचार का सुझाव नहीं दिया गया है बल्कि कोविड एप्रोप्रिएट बिहेवियर यानि मास्क लगाना और साफ सफाई आदि का ध्यान रखने को बढ़ावा दिया गया है.

हल्के लक्षणों की स्थिति में मरीज को कुछ अंतराल पर paracetamol 10-15mg/kg/ देने के लिए कहा गया है जबकि गंभीर लक्षणों की स्थिति में ऑक्सीजन थेरेपी का तत्काल इस्तेमाल करने के लिए कहा गया है. 
 

ताज़ा वीडियो